Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Mon, May 12th, 2014
    Vidarbha Today | By Nagpur Today Vidarbha Today

    तलोधी (बालापुर) : मधुमक्खियों के हमले में घायल पर्यटक की पहाड़ी से गिरने से मौत, 5 घायल


    नागभीड़ तालुका के प्रसिद्ध तीर्थस्थल सातबहिणी पहाड़ी में हुआ हादसा


    तलोधी (बालापुर)

    Madhumakkhi
    नागभीड़ तालुका के प्रसिद्ध तीर्थस्थल सातबहिणी पहाड़ी में मधुमक्खियों के हमले से घायल गणेश हरडे नामक एक व्यक्ति की दो सौ फुट ऊंचाई से नीचे गिरने से म्रृत्यु हो गई, जबकि 5 पर्यटक गंभीर रूप से घायल हो गए. यह घटना कल घटी.

    प्राप्त जानकारी के अनुसार यहां से कुछ दूरी पर स्थित प्रसिद्ध तीर्थस्थल सातबहिणी में करीब 200 फुट की ऊंचाई पर महादेव का मंदिर है. पहाड़ी पर महिला, पुरुष और बच्चे मिलाकर 17 लोग कल रविवार को महादेव का दर्शन करने के लिए गए थे. इसी बीच मधुमक्खियों ने इन लोगों पर हमला कर दिया. इसमें से कुछ लोग तो किसी तरह टेकड़ी से नीचे उतरने में सफल हो गए.

    तत्काल सहायता
    नीचे उतरे इन लोगों ने फोन कर येनोली क़े विनोद बावनकर से सहायता मांगी. उन्होंने तत्काल ब्लैंकेट, चादर और बेडशीट पहुंचाई, लेकिन सहायता सामग्री लेकर टेकड़ी पर चढ़ना संभव नहीं हुआ. इसी दौरान जंगल में उन्हें एक भालू दिखाई दे गया. फिर भी किसी तरह ऊपर पहुंचकर मधुमक्खियों से लोगों को बचाया गया.
    लेकिन मूल के नगरसेवक महेश हरडे का भाई गणेश हरडे (48) मधुमक्खियों के हमले में गंभीर रूप से घायल हो गया. मदद करनेवालों ने बेडशीट उनके शरीर पर डाल नीचे लाने का प्रयास किया, मगर उन्हें लाया नहीं जा सका. गणेश हरडे को बाकी घायलों को नीचे लाया गया.

    इलाज जारी
    मनोज रणदिवे (35), रीदिमा मनोज रणदिवे (3), केशव रणदिवे (चिचपल्ली), दिगंबर पुस्तोड़े (येनोली), नितिन डांगे (गोविंदपुर) को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र तलोधी और अन्य दवाखानों में भर्ती किया गया. गणेश हरडे सुबह 11 बजे से वहीं पर था. होश आने पर उसने नीचे उतरने का प्रयास किया, मगर टेकड़ी से 200 फुट नीचे खाई में गिरने से उसकी घटनास्थल पर ही मृत्यु हो गई.

    Mountain

    दो दिन चला खोज अभियान
    गणेश हरडे की खोज के लिए वन विभाग के आरएफओ चौधरी, उनकी टीम और गांव के लोगों ने कोशिश की, मगर वे सफ़ल नहीं हो पाए. आज फिर गणेश की खोज शुरू की गई. सुबह 9 बजे सारंगढ़ के बाजू में यानी सातबहिणी पहाडी के पीछे घने वन में उसका शव मिला. पुलिस ने रिश्तेदारों को शव सौंप दिया. मृतक और घायल येनोली के विनोद बावनकर के बेटे की शादी में हिस्सा लेने आए थे. मृतक गणेश विनोद बावनकर के रिश्तेदार थे.


    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145