Published On : Thu, Aug 7th, 2014

चिमूर : अन्याय को दूर करने के लिए जंग लडना ज़रूरी- रवि वरखेड़े


चिमूर

महाराष्ट्र पुरोगामी शिक्षक समिति तालुका शाखा चिमूर की तरफ से लंबित मांगे पूरी करने के संदर्भ में पंचायत समिति कार्यालय के आगे एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया गया. इस दौरान रवि वानखेड़े ने मौजूद कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए कहा की शासन की ओर से दी जाने वाली सहूलियतों की हम मांग कर रहे है, हमें नया कुछ नही चाहिए , हमारे ऊपर हुए अन्याय को दूर करने के लिए लडना जरुरी है. शिक्षकों की समस्या दूर करने के लिए शासन ने जल्द कदम उठाने चाहिए यह हमारा उद्देश्य है.

इस अवसर पर शिक्षकों ने तीव्र भावना व्यक्त की. इस दौरान 27 समस्याओं पर चर्चा हुई. अधिकारी और संघटना के पदाधिकारीयों के सहयोग से समस्या सुलझाए गए. इसमें छठे वेतन आयोग का पाचवा सप्ताह, वरिष्ठ श्रेणी के एरियस, प्रसुति छुट्टी बिल, बीमार छुट्टी बिल, मासिक वेतन और अन्य समस्या के हल निकाले गए. इस धरने में लगभग 50 शिक्षकों ने उपस्थिति दर्ज कराई . इस अवसर पर संवर्ग विकास अधिकारी व गटशिक्षणाधिकारी यशवंत कांबले ने न्याय करके प्रश्न सुलझाया.

एन.आर. कांबले, एम.आर. शेख, हनवते, व्हि. एम. मुरकुटे, ता.रा. दड़मल, नरेंद्र मुंगले, मस्के, सुनील मसराम, गोविंदा गोहने, वैशाली डवले, एम.के.दड़मल, विनोद महाजन, राजू चांदेकर, मेहरकुरे, खरवड़े, मिलमिले और भी शिक्षक मौजूद थे.

File pic

File pic