Published On : Fri, Aug 22nd, 2014

चंद्रपुर : मिनी भारत नजर आता है बल्लारपुर शहर

Advertisement


मशहूर फिल्म अभिनेता विवेक ओबेरॉय ने कहा

चंद्रपुर

Vivek oberoy & Mingantiwar
बल्लारपुर शहर मुझे मिनी भारत ही नजर आता है, जहां देश के सभी प्रांतों के लोग रहते हैं. उन सबका प्रेम विधायक सुधीर मुनगंटीवार को मिला है. मुनगंटीवार सच्चे मन के, वचन निभाने वाले और इंसानियत को महत्व देने वाले नेता हैं. यह यहां के लोगों का सौभाग्य ही है कि उन्हें मुनगंटीवार जैसा प्रतिनिधि मिला है.

Advertisement

ये विचार मशहूर फिल्म अभिनेता विवेक ओबेरॉय के हैं, जो उन्होंने तालियों की गड़गड़ाहट के बीच बल्लारपुर के नाट्यगृह में व्यक्त किए. वे नाट्यगृह की सुरक्षा दीवार के शिलान्यास समारोह के मौके पर आयोजित आम सभा में बोल रहे थे. मंच पर सुधीर मुनगंटीवार के अलावा सपना मुनगंटीवार, शलाका मुनगंटीवार, भाजपा के वरिष्ठ नेता चंदनसिंह चंदेल, जिला परिषद अध्यक्ष संतोष कुमरे, भाजपा के जिला महासचिव हरीश शर्मा, देवराव भोंगले, शिवचंद द्विवेदी, रेणुका दुधे, अजय दुबे, किशोर जोरगेवार, प्रकाश धारणे, संध्या गुरनुले, तुषार सोम, राजीव गोलीवार, बलराम डोडाणी, श्रीनिवास चुंचुवार मौजूद थे.

Advertisement
Advertisement

विधायक मुनगंटीवार ने कहा कि इस शहर के विकास के लिए उन्होंने अपनी पूरी शक्ति के साथ प्रयास किया है. उन्होंने घोषणा की कि केंद्रीय नगर विकास मंत्रालय के माध्यम से बल्लारपुर शहर के विकास के लिए वे 100 करोड़ की राशि लेकर आएंगे. उन्होंने कहा कि बल्लारपुर शहर को विदर्भ का सबसे सुंदर शहर बनाने के लिए वे कटिबद्ध हैं.
आम सभा से पहले श्रमिक भवन के पड़ोस में नाट्यगृह के लिए बनाई जाने वाली सुरक्षा दीवार का शिलान्यास सभी धर्मों के प्रतिनिधियों के हाथों किया गया. मोहनराव परालकर गुरुजी, मोहम्मद फैजान रजा शेख अब्दुल जब्बार, ज्ञानी त्रिलोकसिंह छगनसिंह खालसा, भिक्खू आनंद, फादर जोसेफ के हाथों शिलान्यास किया गया. उद्घाटन विवेक ओबेरॉय ने किया. भाजपा नेता चंदेल का ओबेरॉय और मुनगंटीवार के हाथों सत्कार किया गया. इस अवसर पर नवोदिता संस्था द्वारा राज्य नाट्य स्पर्धा चिंधी बाजार नाटक पर मिले राज्य से पहले पुरस्कार पर नाटक की टीम का सत्कार किया गया. विवेक ओबेरॉय के हाथों नाटक के निर्माता अजय धवने, आशीष अम्बाडे, निर्देशक डॉ. जयश्री कापसे-गावंडे, प्रशांत कक्कड़, नूतन धवने और रोहिणी उईक का सत्कार किया गया. विख्यात चित्रकार प्रल्हाद ठक, वरिष्ठ पत्रकार मधुकर रणविदे, वसंतराव खेडेकर का भी ओबेरॉय के हाथों सत्कार किया गया.

Vivek oberoy & Mingantiwar
इस अवसर पर ओबेरॉय को राधाकृष्ण का काष्ठशिल्प देकर सत्कार किया गया. प्रास्ताविक भाषण हरीश शर्मा ने किया, जबकि कार्यक्रम का संचालन धर्मप्रकाश दुबे, मोंटू सिंह, राकेश कुलसंगे ने किया. कार्यक्रम के बाद विवेक ओबेरॉय को एक रैली में बल्लारपुर शहर में लाया गया. कार्यक्रम की सफलता के लिए मीना चौधरी, अधि. रणंजय सिंह, किशोर मेश्राम, सुजीत निर्मल, रमेश सोनकर, कैलाश, करीमभाई सहित बल्लारपुर शहर भाजपा के पदाधिकारियों ने
परिश्रम किया. आभार प्रदर्शन भाजपा नेता शिवचंद द्विवेदी ने किया.

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
 

Advertisement