Published On : Fri, Jun 6th, 2014

चंद्रपुर : बिआयटी ने शुरू किया नया पाठ्यक्रम


एमटेक इलेक्ट्रॉनिक्स तथा कंप्यूटर्स साइन्स का बढ़ा सिलेबस

चंद्रपुर

workshop BIT
बल्लारपुर इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी संस्थान ने छात्राओं के उज्वल भविष्य के उद्देश्य से पाठ्यक्रम में कुछ नई चीज़ें जोड़ी है. इसमें विशेषतः एमटेक इलेक्ट्रॉनिक्स व एमटेक संगणक के पाठ्यक्रम को बढ़ाया गया है. ये जानकारी संस्था के अध्यक्ष एड. बाबासाहेब वासाडे ने प्रसिध्दी पत्रक द्वारा दी है.

चंद्रपूर व गडचिरोली इस पिछड़े जिले के छात्राओं में भी तकनीकी शिक्षा लेने की चाहत हाल के समय में बढ़ी है. छात्र छात्राएँ व्यवसाय करने के लिए प्रेरित हो इस दृष्टी से कृषि जीवन विकास प्रतिष्ठानो के द्वारा बल्लारपूर तालुका के बामणी इलाके में तकनीकी शिक्षा देनेवाले बीआयटी की स्थापना की गई थी. २००९ में मेकैनिकल, इलेक्ट्रिकल, कंप्यूटर साइंस, सिविल इंजीनियरिंग, मायनिंग इंजीनियरिंग का पाठ्यक्रम शुरू करने के बाद 2010 में एमबीई, एमसीए पाठ्यक्रम को शामिल किया गया. अभियांत्रिकी के छात्र छात्राओं को उच्च शिक्षा मिले इस उद्देश्य से अब एमटेक पाठ्यक्रम भी शामिल किया गया है. प्रशस्त वर्कशॉप व महाविद्यालय का निसर्ग रम्य वातावरण में छात्रों का विकास हो रहा है. महाविद्यालय का व्यवस्थापन प्राचार्य डॉ. एम. बसवराज (बगलोर) ने गत पांच वर्ष में पूरी ज़िम्मेदारी से संभाला है. इस संस्था के माध्यम से ही क्षेत्र से ढाई हजार छात्रों को अभियांत्रिकी शिक्षा लेने का मौका मिल पाया है ऐसी जानकारी संस्था के सचिव संजय वासाडे ने दी. गत पांच वर्ष में बिआयटी ने अभियांत्रिकी शिक्षा क्षेत्र में विदर्भ में सराहनीय काम किया है. जिले में उपलब्ध औद्योगिक विकास के मौकों को ध्यान में रखते हुए छात्रों ने अभियांत्रिकी व व्यवसाय करने के लिए प्रेरित होकर शिक्षा की और बढे , ऐसा आवाहन एड. बाबासाहेब वसाडे ने किया है.