Published On : Fri, Aug 8th, 2014

चंद्रपुर : पृथक विदर्भ के लिए सड़कों पर उतरेंगे कामगार


9 को होने वाले ‘रेल देखो-बस देखों’ आंदोलन को समर्थन

चंद्रपुर

pruthak vidarbha
जनमंच की ओर से क्रांति दिवस पर 9 अगस्त को विदर्भ के सभी बस स्टैंड व रेलवे स्टेशनों पर रेल देखो-बस देखों आंदोलन किया जाएगा. इस दौरान यात्रियों को विदर्भ बंधन सूत्र बांधा जाएगा. इस आंदोलन को जिले के सभी उद्योगों के कामगारों द्वारा गठित जिला मजदूर कांग्रेस की ओर से समर्थन घोषित किया गया है. यह जानकारी कामगार नेता तारासिंह कलसी ने दी.

राजनीति न करें : कलसी
तारासिंह कलसी ने कहा कि पिछले कई वर्षों से विदर्भ की जनता पृथक विदर्भ के लिए आंदोलन कर रही है. इस दौरान छत्तीसगढ़, उत्तराखंड, झारखंड, तेलंगाना आदि राज्यों का गठन किया गया, परंतु विदर्भ की मांग को नजर अंदाज कर दिया गया। विदर्भ स्वतंत्र राज्य बनने की दृष्टि से पूरी तरह से सक्षम है, केवल गलत राजनीति के कारण विदर्भ की उपेक्षा की जा रही है. उन्होंने पृथक विदर्भ राज्य के निर्माण में राजनीति नहीं करने की अपील की.


लोगों की आंखों बीजेपी झोंक रही धुल
कलसी ने कहा कि वर्ष 1997 के बुवनेश्वर अधिवेशन में पार्टी ने पृथक विदर्भ राज्य निर्मित का प्रस्ताव पारित किया था. अब पार्टी अपने वचनो को निभाने का समय है. उनका कहना था कि महाराष्ट्र में शिवसेना के साथ युति होने के कारण भाजपा नेता विधानसभा चुनाव बाद विदर्भ राज्य पर विचार करने का लालीपाप दिखा रहे है. अपने सहयोगी दल के दबाव में आकर भाजपा किसी भी तरह का ठोस आश्वासन देने को तैयार नहीं है. एक बार चुनाव होने के बाद भाजपा इस मुद्दे को भी ठंडे बस्ते में डाल देगी. उन्होंने कहा कि भाजपा के नेता नितिन गडकरी ने लोकसभा चुनाव के दौरान नागपुर में घोषणा की थी कि विदर्भ राज्य के लिए बिना शर्त समर्थन है यदि वे निर्वाचित होते है, तो विदर्भ राज्य के लिए अपने स्तर पर पूरा प्रयास करेंगे चुनाव के समय अलग और चुनाव के बाद अलग भूमिका अपनाकर भाजपा द्वारा लोगों की आंखों में धुल झोंकने का आरोप उन्होंने लगाया.

97 प्रतिशत जनता का समर्थन
कलसी ने बताया कि स्वतंत्र विदर्भ के मुद्दे पर अमरावती, नागपुर, चंद्रपुर, यवतमाल में हुए जनमत सर्वेक्षण में 97 प्रतिशत जनता ने पृथक विदर्भ के पक्ष में अपना मत रखा है. यही जनभावना अब आंदोलन द्वारा प्रकट होने की आवश्यकता है. इसके लिए 9 अगस्त को सम्पूर्ण विदर्भ में रेल देखो-बस देखों आंदोलन, विदर्भ बंधन कार्यक्रम सुबह 11 बजे से शाम 4 बजे तक होगा. इस दिन रेलवे और बस स्टैंड व शहर के चौराहों पर यह कार्यक्रम लिया जाएगा. पत्रपरिषद में चंद्रशेखर पोडे, वसंत मांढरे, साईनाथ बुचे, देवेंद्र गहतोल, अजय, मानवटकर, श्रीनिवास गाडगे, विदर्भ जनमंच के एड. किशोर किलोर, चंद्रकांत वानखेड़े, प्रा. शरद पाटिल आदि उपस्थित थे.