Published On : Fri, May 23rd, 2014

चंद्रपुर : किसानों को समय पर मिलें कर्ज, बीज और खाद


चंद्रपुर जिले के पालकमंत्री संजय देवतले ने कृषि विभाग से कहा


चंद्रपुर

Chandr
चंद्रपुर जिले के पालकमंत्री संजय देवतले ने कृषि विभाग से कहा है कि भले ही खरीफ मौसम के लिए खाद और बीज पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध हैं, लेकिन विभाग को देखना होगा कि खाद और बीजों की कृत्रिम कमी न होने पाए. साथ ही यह भी देखना जरूरी है कि किसानों को कर्ज भी समय पर मिल जाए.

खरीफ समीक्षा बैठक
जिलाधिकारी कार्यालय में खरीफ समीक्षा बैठक में बोलते हुए उन्होंने कहा कि कृषि विभाग ने पिछले साल खाद और बीजों का बेहतर विनियोजन किया था. इस साल भी किसानों को खाद और बीज समय पर मिल जाना चाहिए. पालकमंत्री ने सलाह देते हुए कहा कि कृषि विभाग किसानों को उचित मार्गदर्शन करे. साथ ही फसलों की परिस्थितियों के संबंध में उन्हें जागरूक किया जाना चाहिए. किसानों को राष्ट्रीय कृषि बीमा योजना का लाभ ज्यादा से ज्यादा संख्या में दिलाने के लिए भी विभाग को प्रयास करना चाहिए.

कुल बुआई क्षेत्र साढ़े 4 लाख से अधिक
कृषि विभाग की ओर से बताया गया कि इस बार खरीफ के मौसम में 1 लाख 79 हजार हेक्टेयर क्षेत्र में चावल, 1 लाख 25 हजार हेक्टेयर क्षेत्र में सोयाबीन और 1 लाख 20 हजार हेक्टेयर क्षेत्र में कपास की बुआई की जाएगी. जिला अधीक्षक कृषि अधिकारी डी. एल. जाधव ने बताया कि कुल बुआई का क्षेत्र 4 लाख 69 हजार हेक्टेयर रहेगा. जाधव ने बताया कि महाबीज से लेकर तो निजी कंपनियों के 1 लाख 6 हजार क्विंटल बीजों की जरूरत होगी, जबकि प्राप्त संग्रह 1 लाख 4 हजार 240 क्विंटल ही है.

विभिन्न मुद्दों पर चर्चा
इस बैठक में पूर्व मालगुजारी तालाब, राष्ट्रीय कृषि बीमा योजना, बिजली विभाग का बकाया, ओलापीड़ितों को आर्थिक सहायता, खाद और बीजों की उपलब्धता तथा बैंकों के कर्ज आदि पर विस्तार से चर्चा की गई. कृषि विभाग द्वारा किसानों के मार्गदर्शन के लिए जारी पोस्टर का विमोचन भी इस अवसर पर पालकमंत्री संजय देवतले के हाथों किया गया. बैठक में विधायक शोभाताई फड़नवीस, जिलाधिकारी डॉ. दीपक म्हैसकर, जि. प. के मुख्य कार्यकारी अधिकारी आशुतोष सलील, जि. प. के कृषि सभापति अरुण निमजे, अपर जिलाधिकारी सी. एस. डहालकर, कृषि सहसंचालक विजय घावटे आदि उपस्थित थे.