Published On : Tue, Jul 15th, 2014

चंद्रपुर : इंद्र देव ने आखिर की वर्षा; बुआई का काम ज़ोरो शोरो से जारी

Advertisement


जिले में 32 प्रतिशत बुआई संपन्न ; किसानों में उत्साह

चंद्रपुर

Farmer
तीन महीने से खेत और आसमान की ओर आंखे गड़ाए बैठे किसानों को आखिरकार सोमवार से शुरू बारिश ने राहत दी है. बुधवार को भी बारिश जारी रहने से अब किसान काम में लग गए हैं. जिले में तकरीबन 32 प्रतिशत बुआई का काम किया जा चुका है. हालांकि बारिश जारी रहेगी या नहीं इसको लेकर किसानों के मन में डर बना हुआ है.

Advertisement
Advertisement

पिछले वर्ष के दोनों हंगाम में हुए नुकसान की भरपाई इस साल हो जाने की उम्मीद से किसानों ने जून महीने की शुरुवात में ही फसल के लिए तैयारी शुरू कर दी. पैसो का किसी तरह जुगाड़ कर किसानों ने खाद और बीज आदि ख़रीदे और मृग नक्षत्र में बरसात होते ही बुआई की जाएगी ऐसी उम्मीद किसानों ने लगाईं थी लेकिन मृग नक्षत्र में बारिश ने किसानों को निराश किया था जिससे किसान असमंजस की स्थिति में थे.

इस बार जिले के चार लाख साठ हज़ार 92 हेक्टेयर में विविध फसलें लगाईं जाने वाली है जिसमें से एक लाख 25 हज़ार हेक्टेयर में सोयाबीन की बुआई की जाने वाली है. एक लाख 20 हज़ार हेक्टेयर क्षेत्र में कपास की बुआई की जाने वाली है.

जून समाप्त होने के बावजूद भी बारिश नहीं होने से किसानों को साल 2012 का सुखा याद आ रहा था. चंद्रपुर के कई तालुकों में पिछले महीने बारिश ने हलकी सी दस्तक दी थी और ज़मीन जैसे की थोड़ी गीली हुई पहली बारिश के इंतज़ार में बैठे किसानों ने तुरंत बुआई करना शुरू कर दिया लेकिन फिर बारिश नहीं होने से किसानों के माथे पर चिंता की लकीरें उभर आई और उनकी उम्मीदें धरी की धरी रह गई थी. अब एक बार फिर बारिश हुई है और किसानों ने बुआई शुरू कर दी है साथ ही ईश्वर से प्रार्थना कर रहे हैं की इस बार इंद्र देवता नाराज़ ना हों.

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement