Published On : Mon, Apr 21st, 2014

बल्लारपुर: घर में घुसा तेंदुआ, 8 घायल


घायलों में एक बच्चा, दो महिलाएं और 5 वनकर्मी , 
बल्लारपुर के संतोषी माता वार्ड की घटना
वीडियो देखने के लिये क्लिक करें 

बल्लारपुर.

बल्लारपुर की घनी बस्ती संतोषी माता वार्ड में आज उस समय दहशत फ़ैल गई जब सुबह जागे लोगों को मालूम पड़ा कि उनकी बस्ती के एक घर में तेंदुआ घुसा हुआ है. तेंदुआ तड़के एक घर के मवेशीखाने में घुसा था. आखिर भारी मशक्कत के बाद वन कर्मियों ने दोपहर को तेंदुए को पकड़ लिया. इस बीच, खबर है कि तेंदुए ने एक बच्चे और दो महिलाओं के साथ ही मानद वन्यजीव रक्षक बंडू धोतरे को भी पंजा मारकर घायल कर दिया. इस कोशिश में चार वन्यकर्मी भी मामूली जख्मी हुए हैं. बंडू को चंद्रपुर रुग्णालय में भरती किया गया है.

 1520805_229722433895417_4978221339223837011_n
मची खलबली
मिली जानकारी के अनुसार आज तड़के 3 बजे के आसपास जब लोग गहरी नींद में सोए हुए थे, एक तेंदुआ संतोषी माता वार्ड के एक घर में घुस गया. सुबह ग्रामीणों के जागने के बाद जब उन्हें इसकी जानकारी मिली तो गांव में खलबली मच गई. तत्काल वन विभाग के अधिकारियों को इसकी सूचना दी गई.
वनकर्मी भारी प्रयासों के बाद भी उसे पकड़ नहीं सके. तेंदुआ को पकड़ने का प्रयास कर रहे मानद वन्यजीव रक्षक बंडू धोतरे को उसने पीछे से पंजा मारकर घायल कर दिया. आखिर दोपहर बाद किसी तरह उसे बेहोशी का इंजेक्शन देकर पकडा जा सका. बेहोश करते समय 4 कर्मचारी घायल भी हो गए. फिलहाल तेंदुए को सुश्रुषा वाटिका में रखा गया है, जबकि वन विभाग के चारों घायल कर्मचारियों का उपचार जारी है.
unnamed
दहशत अब भी 
5 वर्ष में यह पहली घटना है जब कोई वन्य प्राणी शहर में घुसा हो. तेंदुआ के पकड़े जाने के बाद भी लोगों में दहशत फैली हुई है. खासकर पंखे व कूलर के अभाव में घर के बाहर सोने वाले लोग भारी दहशत में है. संभवत: पानी व भोजन की तलाश में यह तेंदुआ जंगल से निकलकर शहर में घुस आया हो.