Published On : Fri, Jul 4th, 2014

गोंदिया : मुकेश शिवहरे हो सकते हैं शिवसेना के विकल्प


गोंदिया

Mukesh Shivhareविधानसभा चुनाव के मद्देनजर राजनैतीक गलियारों में उम्मीदवारों को लेकर उथल पुथल शुरू हो गई है. इसी बीच नागपुर से शिवसेना के उम्मीदवार के रूप में शिवसेना जिला प्रमुख़ मुकेश शिवहरे का नाम चर्चा में है. जानकारों की माने तो मुकेश शिवहरे शिवसेना के विकल्प हो सकते हैं. मुकेश शिवहरे का नाम चर्चा में होने की कई वजहें हैं.

गौरतलब है कि अगर मुकेश शिवहरे को शिवसेना अपना उम्मीद्वार चुनती है तो कलार समाज के 40 हज़ार वोटों को तो निश्चित तौर पर मुकेश शिवहरे की झोली में पड़ने का अंदाज़ा है और इसके अलावा व्यापारी वर्ग में भी मुकेश शिवहरे लोकप्रिय है क्यू की मुकेश शिवहरे व्यापार से जुड़ा नाम है इसलिए माना जाता है की व्यापारी वर्ग के भी अच्छे खासे वोट मुकेश शिवहरे को मिल सकते हैं. मुकेश शिवहरे गो. जि. डेअरी असोसिएशन के अध्यक्ष पद पर हैं. इसके अलावा शिवहरे मच्छीमार संघ और गौपुरी गौशाला के डाइरेक्टर भी है. इसके अलावा शिवहरे कल्हार समाज के जिलाध्यक्ष और कबड्डी फेडरेशन के अध्यक्ष पद पर भी हैं.

सिंधी समाज की समस्याओं के लिए लड़ने वाले मुकेश शिवहरे की तरफ सिंधी समाज का झुकाव अच्छा खासा है. 1990 में राजनीतिक करियर की शुरुवात करने वाले मुकेश शिवहरे 1992 में शिवसेना पार्टी से जुडे. सामाजिक कार्यों में सक्रीय भूमिका निभाने वाले मुकेश शिवहरे जनता के बीच लोकप्रिय हैं और लोगों के हित के लिए उन्होंने कई आंदोलन किए हैं. मुकेश शिवहरे के नेतृत्व में महाराष्ट्र राज्य विद्युत वितरण केन्द्र को लेकर किया गया आंदोलन काफ़ी सफल था.

मुकेश शिवहरे ने नागपुर टुड़े से बातचित मे कहा की पार्टी उन्हे जो भी ज़िम्मेदारी देगी वो उसे पुरे समर्पण से निभाएंगे.