Published On : Thu, May 8th, 2014

गोंदिया : नाबालिग से छेड़छाड़ मामले में डॉक्टर को 15 साल की जेल


गोंदिया 

शरीर पर के चट्टे देखने के बहाने नाबालिग से छेड़छाड़ के मामले में जिला सत्र न्यायालय सत्र न्यायाधीश न्यायमुर्ति श्री आर. जे. असमार साहब ने बुधवार 7 अप्रैल को अहम फैसला सुनाते हुये गोरेगांव तहसील के डव्वा उपस्वास्थ्य केंद्र में आरोग्य सेवक पद पर कार्यरित आरोपी गणेश लोकचंद बिसेन उम्र (32 निवासी कुन्हाडी) को 15 साल के लिये जेल भेज दिया गया है.

क्या है मामला- ग्राम डव्वा निवासी हलबी आदिवासी जाति के गरीब परिवार की 14 वर्षीय नाबालिग के शरीर पर सफेद दाग हो निकलने पर उसकी मां चिंतित हो गई थी. जब इस बारे में आरोपी गणेश बिसेन को मालूम पड़ा तो आपसी परिचित के नाते आरोपी 22 जुन 2013 के दोपहर उस वक्त नाबालिग के घर में पहुंचा जब उसके घर पर उसके मां-बाप मौजुद नही थे. घर पर जाकर आरोपी ने नाबालिग को चट्टे देखने के बहाने आरोपी ने उसे कमरे में ले गया. और उसके कपड़े उतरवाकर उसके साथ लैंगिक अत्याचार किया. वहीं दुसरी ओर इस बारे में किसीको बताने पर आरोपी ने नाबालिग को धमकी दे डाली. जब नाबालिग की मां घर पर पहुंची तो उसने घटित घटना के बारे में अपनी मां को बताया जिसके पश्चात उसकी मां डुग्गीपार थाने में आरोपी गणेश के खिलाफ मामला दर्ज करवाया. कोर्ट में आरोपी लैंगिक अत्याचार का दोषी पाया गया. आरोपी को 15 साल की जेल तथा 36 हजार रूपये का अर्थिक जुर्माना की सजा सुनाई गई है.

Representational Pic

Representational Pic