Published On : Wed, Apr 30th, 2014

गोंदिया : अक्षय तृतीया पर होंगी कई शादियां, सबसे शुभ मुहूर्त माना जाता है इसे


गोंदिया

वैशाख शुक्ल अक्षय तृतीया के अवसर पर पारिवारिक और सामूहिक विवाहों की धूम रहेगी. 2 मई को उपराजधानी में यत्र-तत्र-सर्वत्र बैंड-बाजों और शहनाईयों की गूंज सुनाई देगी. इस अवसर पर हजारों विवाह होने का अनुमान है. महीनों पहले ही अक्षय तृतीया पर मंगल कार्यालय, अवकाश घोषित स्कूल इमारतों व सामाजिक भवनों को वैवाहिक कार्यक्रमों के लिए बुक कर लिया गया है. इतना ही नहीं, घोड़ी, बैंड-बाजे, बिछायत व पुरोहित आदि की भी बुकिंग समय से बहुत पहले ही कर ली गई है.

चार महिनों तक रुक जाएंगे विवाह
अधिक मास समापन के बाद 15 अप्रैल से ही वैवाहिक कार्यक्रमों का शुभारंभ हो गया था. नगर के ज्योतिषियों के अनुसार 12 जुलाई को गुरु-गृह का लोप होगा. इसके पूर्व 9 जुलाई को देव-शयनी आषाढ़ी एकादशी से देवताओं का शयन हो जाता है, इसलिए उस तिथि से ही वैवाहिक कार्यक्रमों पर विराम लग जाएगा. गुरु पूर्णिमा 12 जुलाई को है. गुरु पूर्णिमा से ही संन्यासियों का चातुर्मास प्रारंभ हो जाएगा. इन चार महीनों में वैवाहिक कार्य नहीं होंगे.

Representational Pic

Representational Pic

अक्षय तृतीया के दो योग
ज्योतिषियों के अनुसार इस वर्ष दो दिनों तक अक्षय तृतीया का योग रहेगा. इन दो दिनों में बिना मुहूर्त देखे वैवाहिक कार्य किए जाएंगे. एक अनुमान के अनुसार लगभग तीन हजार विवाह होने की संभावना है. गर्मी चाहे कितनी भी हो, बारात और विवाहों की धूम में गर्मी गुम हो जाती है. वैशाख शुक्ल तृतीया का शुभारंभ 1 मई को सुबह 11.22 बजे से होगा और पूर्ण 2 मई को दोपहर 12.03 बजे तक होगा.