Published On : Thu, Aug 14th, 2014

गडचिरोली : गैरआदिवासियों ने दी जिलाधिकारी कार्यालय पर दस्तक


पेसा कानून का विरोध

शाला व कॉलेज के साथ बाजारपेठ 100 प्रतिशत बंद

मोर्चे में छात्रों की व्यापक उपस्थिति

गडचिरोली

agains on pesa kanun
सरकार में पेसा कानून अंतर्गत घोषित किया गया निर्णय रद्द कर नौकर भर्ती में गैरआदिवासियों को स्थान दे, ओबीसी का आरक्षण पूर्ववत करे इन प्रमुख मांगो के साथ अन्य मांगो को लेकर गैरआदिवासि सुशिक्षित बेरोजगार संघठन के बैनर तले आज 14 अगस्त जिलाधिकारी कार्यालय पर विशाल मोर्चा निकाला. इस मोर्चे में छात्रों की व्यापक उपस्थिति ने सभी को आकर्षित कर रहा था. युवाओं से लेकर वृद्ध तक सभी ने इस मोर्चे में बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया. हजारो की संख्या में होनेवाले गैरआदिवासियों के चलते करीब एक किमी तक कतारबद्ध रूप से मोर्चे ने जिलाधिकारी कार्यालय पर दस्तक दी. इस आंदोलन के दौरान शाला, महविद्यालय तथा बजारपेठ बंद रखने का आवाहन किया गया. जिसके चलते शाला,महाविद्यालय भी शतप्रतिशत बंद रहे. साथ ही व्यापारियों ने भी इस मोर्चे को व्यापक समर्थन देने के चलते गडचिरोली शहर के मार्केट में सन्नाटा छाया हुआ था. इस दौरान पेसा कानून अंतर्गत निर्णय निकालने वाले राज्यपाल के निषेध में गैरआदिवासियों ने इंदिरा गांधी चौक में राज्यपाल का पुतला भी फुंक दिया.


सरकार ने गडचिरोली जिले में पेसा कानुन लागु किया होकर नौकर भर्ती में भी उसका अमल किया जानेवाला है. जिससे जिले के 1595 गावों में से 1311 गांव के वर्ग 3 व 4 के पदभरती में संपूर्ण रूप से आदिवासियों के उम्मीदवारों को प्राधान्य दिया जानेवाला है. यहां पहले ही ओबीसी का आरक्षण 19 प्रतिशत पर से 6 प्रतिशत पर लाया गया है. यह अन्याय शुरू होते ही अब पेसा कानुन लागु होने से नौकरी से बाहर होने का डर गैरआदिवासियों में निर्माण हुआ है. जिससे महामहिम राज्यपाल इनका पेसा विषयक अधिनियम रद्द करे तथा ओबीसी समाज का आरक्षण पूर्ववत करे इस मांग समेत अन्य मांगो को लेकर स्थानीय इंदिरा गांधी चौक से जिलाधिकारी कार्यालय तक गैरआदिवासियों ने मोर्चा निकाला.

agains on pesa kanun  (2)
मोर्चे का नेतृत्व गैरआदिवासी होनेवाले सर्वदलीय पदाधिकारियों ने किया. जिसमे भाजपा के जिलाध्यक्ष किसन नागदेवे, नागरी सहकारी बैंक के अध्यक्ष प्रकाश सावकार पोरेड्डीवार, रांका के प्रदेश सचिव सुरेश सावकार पोरेड्डीवार, युवाशक्ति के उपजिलाप्रमुख राजेश कात्रटवार, शिवसेना के उपजिलाप्रमुख अरविंद कात्रटवा, युवक कांग्रेस के अतुल मल्लेलवार, पूर्व जिप सदस्य सुरेन्द्रसिंह चंदेल, जिप के निर्माण सभापति छाया कुंभारे, महिला व बालकल्याण सभापति निरांजनी चंदेल नगराध्यक्ष निर्मला मडके, आदि ने किया मोर्चा जिलाधिकारी कार्यालय पर पहुंचने के पश्चात मांगो का ज्ञापन जिलाधिकारी के द्वारा सरकार को भेजा गया. इस आंदोलन में स्कुल,कॉलेज,बाजार, बंद रखने में सबका सहयोग मिला. मोर्चे की विशालता के चलते शहर की यातायात भी कुछ समय के लिए प्रभावित हो गई थी.

महामहिम राज्यपाल ने 9 जून 2014 को नोकरी संबंध पेसा कानुन संबंध में अधिसूचना निकालकर वर्ग 3 व 4 के पदभर्ती में पेसा गांव अंतर्गत 100 प्रतिशत आदिवासी उम्मीदवारों की भर्ती करे, ऐसा नमूद किया है.ओबीसी का आरक्षण 6 प्रतिशत पर से वापस 19 प्रतिशत करे आदि मांगो को लिए आज गुरुवार 12 बजे गडचिरोली के इंदिरा गांधी चौक से मोर्चा निकाला गया.