Published On : Thu, Aug 14th, 2014

खामगांव : सारी फसलों को बिना शर्त बीमा सुरक्षा मुहैया कराएं


विधायक भाऊसाहेब फुंडकर की सरकार से मांग


खामगांव

Vidhayak Fundkarविधान परिषद में विपक्ष के पूर्व नेता विधायक भाऊसाहेब फुंडकर ने सोयाबीन सहित सभी फसलों के लिए बीमा सुरक्षा देने की मांग सरकार से की है. नए मानदंड के अनुसार 31 जुलाई के बाद जिस सोयाबीन की बुआई की गई है उसे फसल बीमा सुरक्षा के दायरे से बाहर कर दिया गया है. फुंडकर ने इसे किसानों के जख्मों पर नमक छिड़कने के समान बताते हुए इस नई शर्त को रद्द करने की मांग की है और इस तरह की शर्त को आत्महत्या के लिए प्रेरित करने वाला बताया है. उन्होंने राज्य के कृषि मंत्री राधाकृष्ण विखे पाटिल से इस संबंध में फोन पर वार्ता की है.

फुंडकर ने कहा है कि इस बार अपर्याप्त बारिश से किसानों पर दोबारा-तिबारा बुआई की नौबत आई हुई है. पिछले साल ओलावृष्टि और अतिवृष्टि ने किसानों का भारी नुकसान किया था. अब फिर एक बार नुकसान की तरफ बढ़ रहा किसान इससे टूट चुका है. आज उन्हें सरकार द्वारा आधार देने की जरूरत सबसे अधिक है.

उन्होंने कहा कि फसल बीमा योजना की अंतिम तिथि बढ़ाकर 31 अगस्त करने की मांग की गई थी, मगर सरकार ने यह अवधि 16 अगस्त तक ही बढ़ाई है. उसमें में कई शर्तें लाद दी है. सोयाबीन को बीमा सुरक्षा से बाहर कर दिया गया है. खामगांव निर्वाचन क्षेत्र में सोयाबीन की बुआई सर्वाधिक की गई है और उसी को बीमा सुरक्षा से बाहर करने से किसानों की रही-सही उम्मीद भी खत्म हो गई है.