Published On : Mon, Aug 18th, 2014

खामगांव : विहिंप के स्थापना दिवस पर निकली विशाल शोभायात्रा


खामगांव

shobhayatra (Khamgaon)
विश्व हिंदू परिषद (विहिंप) की स्वर्ण जयंती के मौके पर खामगांव में आज दोपहर 12 बजे विशाल शोभायात्रा निकाली गई. विहिंप और बजरंग दल के तत्वावधान में मुक्तेश्वर आश्रम से निकली शोभायात्रा एकबोटे चौक, अग्रसेन चौक, शहर पोस्टे, डॉ. आंबेडकर पुतला, बस स्टैंड, तिलक चौक, सरकी लाइन, मेन रोड, महावीर चौक, फरशी सहित शहर के प्रमुख रास्तों से होते हुए वापस मुक्तेश्वर आश्रम पहुंची, जहां शोभायात्रा का समापन हुआ. इसके बाद एक सभा का आयोजन किया गया.

शोभायात्रा में सबसे आगे ऊंट, घोड़े पर रानी लक्ष्मीबाई और शिवाजी महाराज की वेशभूषा धारण किए कार्यकर्ता, सिर पर मंगल-कलश लेकर चलती महिलाएं, वारकरी, हाथों में भगवा ध्वज लेकर चल रहे बजरंगी तथा रथ में विराजमान श्रीराम, लक्ष्मण और सीता की आकर्षक मूर्तियां सबका ध्यान खींच रहीं थी. शोभायात्रा में हभप दायमा महाराज, जिला संघ चालक महादेवराव भोजने, तालुका संघ चालक विजयकुमार चौबीसा, जिला मंत्री बापू खराटे, बापूसाहेब करंदीकर, हभप मुरलीधर महाराज करांगले, देवेंद्र महाराज मार्के, सुपेकर महाराज, गोपाल महाराज राऊत, पांडुरंग महाराज टिकार, हभप विट्ठल भोजने, दयाराम महाराज, अधि. अमोल अंधारे, राजेंद्र राजपूत शामिल हुए.

हिंदू संगठन के लिए विहिंप
विहिंप पदाधिकारियों ने बताया कि विश्व हिंदू परिषद की स्थापना जात-पांत में बिखरे हिंदू समाज को एकजुट करने के उद्देश्य से की गई थी. 1964 में स्थापित विश्व हिंदू परिषद आज विश्वव्यापी हो गई है. आज दुनिया के सौ देशों में संगठन का कार्य चल रहा है.

विहिंप के विदर्भ में संचालित सेवा प्रकल्प
विहिंप द्वारा विदर्भ में जो सेवा प्रकल्प चलाए जा रहे हैं उनमें, वनवासी आश्रमशाला-2, अनाथ बच्चों के सुरक्षा पालनपोषण केंद्र व विज्ञान अनुसंधान केंद्र एवं औषधि निर्माण केंद्र, विविध गोरक्षण संस्था, वनवासी क्षेत्र में एकल विद्यालय- 700, दवाखाना – 1, रुग्णवाहिका- 3, महिला सिलाई व उद्योग केंद्र – 3, रेलवे प्लेटफार्म ज्ञानमंदिर – 1, हिंदू हेल्पलाइन और रक्तदान शिविर – 135 शामिल हैं.