Published On : Tue, Jun 10th, 2014

खामगांव : पटवारी ने धोखे से छीनी ज़मीन ; वृद्ध किसान दंपत्ति बैठे अनशन पर


खामगांव

पिता की मृत्यु के बाद तीन भाइयों को बटवारे में ज़मीं मिली जिसमे से एक हिस्से को पटवारी ने धोखे से अपने कब्ज़े में कर लिया ऐसा आरोप एक किसान दंपत्ति ने लगाया है. दंपत्ति ने ज़मीन पर अपना मालकी हक़ पाने के लिए उपविभागीय (महसूल) कार्यालय के सामने अनशन शुरू किया है.

खामगांव तहसील अंतर्गत जमुना के चन्द्रभान रोजल को पिता की मौत के बाद बटवारे में मिली 7 एकड़ ज़मीन हिस्से में मिली थी. 1873 से चन्द्रभान उस ज़मीन पर खेती कर रहा था. चन्द्रभान का आरोप है की सम्बंधित पटवारी ने ज़मीन एकत्रित करने की बात कहकर उसके हस्ताक्षर ले लिए लेकिन उस कागज़ पर ज़मीन का हक़ छोड़ने की बात लिखी थी. धोखे से छीनी गई ज़मीन को वापस पाने और दोषी पटवारी पर कार्रवाई की मांग को लेकर चन्द्रभान और उसकी पत्नी गोकणी ने बेमियादी अनशन शुरू किया है.

Representational Pic

Representational Pic