Published On : Thu, Jun 19th, 2014

खामगांव : नई बोरियों में पुरानी खाद


खामगांव में चल रहा गोरखधंधा उजागर


50 बैग खाद, मशीन जब्त

खामगांव

नई बोतल में पुरानी शराब की तर्ज पर खामगांव में कल पुरानी खाद को नई बोरी में भरकर बाजार में बेचे जाने का एक मामला उजागर हुआ है. इसके बाद कृषि विभाग ने पूरी खाद को जब्त करने के साथ ही गोदाम को सील कर दिया है. भाजपा विधायक पांडुरंग फुंडकर और कार्यकर्ताओं की सतर्कता से यह मामला सामने आया है.

गोदाम में चल रहा था गोरखधंधा
प्राप्त जानकारी के अनुसार स्थानीय एमआईडीसी में जिला मार्केटिंग फेडरेशन के कुछ गोदाम हैं. इनमें से कुछ गोदाम इफको कंपनी ने किराये पर लिया है. इसमें 20-20-13 की खाद की बोरियां रखी गईं थी. अंतिम गोदाम में वर्ष 2011 की तिथिबाह्य खाद को नई बोरियों में भरकर कृषि केन्द्रों की मार्फ़त किसानों को बेचे जाने की जानकारी विधायक फुंडकर को मिली.

विधायक ने मारा छापा
जानकारी मिलने के बाद 18 जून की शाम 4 बजे विधायक ने अपने सहयोगियों के साथ इस गोदाम पर छापा मारा. गोदाम में अप्रैल 2011 की उत्पादन तिथि की खाद की बोरियां खोलकर उसे थ्रेशर में बारिक़ किया जा रहा था और फिर उस पर इंडियन फार्मर फ़र्टिलाइज़र कंपनी लिमिटेड का नाम और मई 2013 की उत्पाद तिथि अंकित की जा रही थी. मजे की बात यह कि बोरियों में खाद भरते समय उसका वजन भी नहीं किया जा रहा था.

पुरानी खाद, थ्रेशर मशीन जब्त
विधायक फुंडकर ने इसकी जानकारी तहसील कृषि अधिकारी जी. सी. कोठारी, पंचायत समिति के खंड विकास अधिकारी प्रकाश वाघ, पं. स. के कृषि अधिकारी अशोक पल्हाड़े और शिवाजीनगर के थानेदार ओमप्रकाश अंबाडकर को दी. सबने घटनास्थल पर पहुंचकर पंचनामा किया और 50 बैग खाद, थ्रेशर मशीन आदि जब्त कर लिया. इस बीच, पुरानी खाद नई बोरियों में पैक करनेवाली मशीन को गायब करने की कोशिश गोदामपाल गोहोकार ने की. मरम्मत के नाम पर वह मशीन को ले जाना चाह रहा था, लेकिन पुलिस के पहुंचने के बाद उसकी हिम्मत जवाब दे गई.

10 टन खाद लेने पहुंचे
इस कार्रवाई के दौरान ही एमएच 28 एच 9794 क्रमांक का मिनीडोर डोंगरखंडाला से आया. यह मिनीडोर कृषि केंद्र संचालक मधुकर सावले लेकर आए थे. उन्होंने बताया कि वे 10 टन खाद लेने आए थे. इस संबंध में उनकी जिला मार्केटिंग अधिकारी से पहले ही बात हो गई थी.

देखभाल कर खरीदें खाद : फुंडकर
गोदामपाल की मिलीभगत से चल रहे इस गोरखधंधे को देखते ही विधायक फुंडकर बिफर गए. उन्होंने किसानों से अपील की कि वे इफको कंपनी की खाद खरीदते समय पूरी जांच -पड़ताल कर लें. इस मौके पर फुंडकर के साथ भाजयुमो के प्रदेश उपाध्यक्ष आकाश फुंडकर, जिला महासचिव शेखर पुरोहित, शहर अध्यक्ष संजय शिंगार, नरेंद्र शिंगोटे, हरिभाऊ यादगिरे, बलिराम मिरगे, तहसील अध्यक्ष शरदचंद्र गायकी, संतोष येवले, शिवसेना के विलास काले, सुभाष वाकुडकर भी थे.

File Pic

File Pic