Published On : Sat, Jun 28th, 2014

कोराडी : लोग गिरते-पड़ते पहुंचते हैं ताज बाबा के दरबार

Advertisement


सड़क की हालत हुई काफी खराब, जगह-जगह हैं बड़े-बड़े गड्ढे


कोराडी

road
पाटनसावंगी रेलवे गेट से लेकर वाकी स्थित सूफी संत बाबा ताज के दरगाह तक का चार किलोमीटर का रास्ता बहुत अधिक ख़राब हो गया है. जगह-जगह बड़े-बड़े गड्ढे ही नजर आते हैं. श्री ताजबाबा दरबार के भक्त शेखर थोटे ने इस सड़क की तत्काल मरम्मत की मांग की है.

जिले का पर्यटन स्थल
प्राप्त जानकारी के अनुसार वाकी दरबार को जिलास्तरीय ‘क’ वर्ग पर्यटन स्थल का दर्जा प्राप्त है. यह सर्वधर्मीय पवित्र श्रद्धास्थल है. नागपुर जिला ही नहीं, बल्कि पूरे राज्य से भक्तगण यहां आते हैं. पाटनसावंगी रेलवे गेट से लेकर वाकी गांव तक का रास्ता गड्ढों और गिट्टियों से पट गया है. दुपहिया से आनेवाले भक्तगण अक्सर गिरकर अपने हाथ-पैर तुड़वाते रहते हैं.

Advertisement
Advertisement

भारी वाहनों ने की दुर्गति
श्री थोटे ने कहा है कि वाकी परिसर को कुदरत ने बड़ी फुर्सत में बनाया है. प्राकृतिक सौंदर्य से भरे इस इलाके में नागपुरी जनता हर गुरुवार को यहां आती है. रेलवे स्टेशन से ओरिएंटल कंपनी के कार्यालय तक भारी मात्रा में आने-जाने वाले ओरिएंटल कंपनी के भारी वाहनों ने इस रास्ते की दुर्गति कर रखी है. वाकी ग्राम पंचायत और श्री ताज बाबा दरगाह ट्रस्ट ने न्हाई (एनएचएआई) से इस सड़क की मरम्मत की मांग की, लेकिन न्हाई ने भी इसकी उपेक्षा ही की.

एसडीओ / तहसीलदार ध्यान दें
ओरिएंटल कंपनी हाइवे के निर्माण के लिए भारी मात्रा में राख, मिट्टी की आवाजाही इसी रास्ते से करती है. इससे एक तरफ तो पूरे इलाके में दिन भर राख उड़ती रहती है, वहीं सड़क के बारह बजते रहते हैं, सो अलग. उड़ती राख इस इलाके के लोगों का स्वास्थ्य भी ख़राब कर रही है. जिला प्रदूषण अधिकारी, उपविभागीय अधिकारी (एसडीओ) और तहसीलदार से इस तरफ ध्यान देने की मांग की जा रही है. श्री ताज बाबा दरगाह ट्रस्ट ने न्हाई और ओरिएंटल कंपनी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है.

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement