Published On : Thu, Jun 26th, 2014

कोराडी : मंत्री से सड़क के डामरीकरण की गुहार


कोराडी

koradi Dambrikarna
केटीपीएस विद्युत कॉलोनी के भीतरी रास्तों की हालत काफी ख़राब हो गई है. सडकों पर जगह-जगह गड्ढे पड़ने से बिजलीघर के कर्मचारी, विद्यार्थी, नागरिक और वाहन चालकों का गुजरना भी मुश्किल हो गया है. टूटी सडकों का डामरीकरण करने की मांग महादुला नगर पंचायत के नगरसेवक मंगेश देशमुख ने राज्य के ऊर्जा राज्यमंत्री राजेंद्र मुलक से की है.

कॉलोनी के सिविल मैंटेनन्स से विद्युत परिसर गेट क्रमांक एक तक के मुख्य मार्ग पर जगह-जगह गड्ढे पड़ गए हैं. तीन पारियों में बिजलीघर में काम करने वाले कर्मचारी, उनके परिजन और विद्यार्थियों के अलावा महादुला के नागरिक भी इसी रास्ते से आना-जाना करते हैं. वाहन चालकों को जान हथेली पर रखकर चलना पड़ता है. दुर्घटनाएं तो आए दिन होती रहती हैं.

कॉलोनी महादुला व बोकारा गांव के बीच में है. कॉलोनी में ही प्राथमिक माध्यमिक विद्यालय और विद्यामंदिर हाई स्कूल भी हैं. इसके चलते विद्यार्थियों और नागरिकों का आना-जाना भी इसी रास्ते से होता है. बिजलीघर के मुख्य अभियंता और अधीक्षक अभियंता रास्ते की उपेक्षा करते हैं. इसी कारण महादुला-बोकारा गांवों के नागरिकों, बिजलीघर के कर्मचारियों और उनके परिजनों को होनेवाली परेशानियों के मद्देनजर राज्य के ऊर्जा राज्यमंत्री से सड़क के डामरीकरण की गुहार की गई. उन्हें हाल में एक ज्ञापन सौंपा गया है.