Published On : Thu, Jul 17th, 2014

कोरपना : किसानों का तहसील कार्यालय पर मोर्चा


कोरपना

किसान तथा किसान मजदूरों की विविध मांगों के साथ युवक क्रांति समिति द्वारा 18 जुलाई को तहसील कार्यालय पर मोर्चे का आयोजन किया गया है. इस मोर्चे का नेतृत्व पूर्व विधायक सुदर्शन निमकर, जिला परिषद कृषि व् पशुसंवर्धन सभापति अरुण निमजे करेंगे.

इस समय कोरपना तहसील को अकालग्रस्त घोषित कर किसानों द्वारा दोबारा तिबारा बुआई करने की नुकसान भरपाई करने , पिछले वर्ष हुए ओलावृष्टि ,बाढ़ की भरपाई तुरंत करने, उत्पादन खर्चानुसार खेती के माल को भाव दिया जाये, प्रत्येक महीने 2 हजार रुपये पेंशन दी जाये, जमींन धारकों को उनके जमीन के पट्टे तुरंत देने, लोअर वेनगंगा की लाभदायक जमीन से पाबंदी तुरंत हटाए जाने, यहाँ के 33 के व्ही विधुत उपकेन्द्र के काम तत्काल शुरू करने, तहसील के कृषि पंप की क्षमतानुसार और अधिक विद्युत दिए जाने, यहाँ के विरूर गांव के वेकोलि ने जो जमीन ली है उसका मुआवजा तुरंत दिया जाने, ओ बी सी समाज के लोगों को उनके हक़ दिए जाने, इस तहसील के विभिन उद्योगों में 80 प्रतिशत स्थानीय युवकों को रोजगार दिए जाने, किसानों को जो कर्ज दिया गया है व्याज पूरी तरह माफ़ कर दिया जाए, कर्ज का समायोजन ३० सितम्बर तक किया जाए, विद्यार्थियों को उनका जाती प्रमाणपत्र तुरंत दिया जाने संबंधित मांगों को लेकर इस मोर्चे का आयोजन किया गया है.

इस मोर्चे में बड़ी संख्या में किसान, खेतमजदूरों से भाग लेने की अपील राष्ट्रवादी काँग्रेस के अध्यक्ष अशोक दोहे व् युवक क्रांति समिति ने की है.

Representational Pic

Representational Pic