Published On : Tue, Sep 9th, 2014

कोंढाली बस स्टैंड के यात्रियों का दर्द कौन समझेगा ?


बस स्टैंड पर किचड ही किचड

Kondhali Bus stand
कोंढाली (नागपुर)

महाराष्ट्र राज्य मार्ग परिवहन (एस.टी) महामंडल के कोंढाली बस स्टैंड पर किचड का साम्राज्य फ़ैल गया है. फलस्वरूप यात्रियों को जान जोखिम में डालकर राष्ट्रीय राजमार्ग पर उतारा जाता है. इससे यात्रियों को बड़ी दुर्घटना का सामना करना पड़ सकता है.

यहां का बस स्टैंड 52 वर्ष पुराना था और अत्यंत जीर्ण हो चूका था. फलस्वरूप स्थानिय विधायक अनिल देशमुख द्वारा यहां के जनता की मांग पर नया बस स्टैंड निर्माण के लिए 54 लाख रुपयों की मंजूरी दिलाई. विगत वर्ष 17 अगस्त 2013 से यहां पर नया बस स्टैंड निर्माण कार्य जारी है. एक वर्ष से अधिक अवधि होने के बाउजूद भी बस स्टैंड का निर्माण कार्य अपूर्ण अवस्था में है. यहां के बस स्टैंड परिसर में डाले जाने वाला मुरूम कहां से आया इसकी जानकारी काटोल तहसील के विभाग के गौण खनिज विभाग को भी नहीं है. यहां बिछाये गए मुरूम से यहां के प्लेटफार्म की जगह पुर्णतः किचड से भर गई है. जिससें यात्रियों को अपने आगामी यात्रा पर जानें और आने पर चार दिनों से किचड से लथपथ होना पड़ता है. अनेक बस चालक अपनी बसे मुख्य राजमार्ग पर खड़ी करके यात्रियों को उतारते है. यहां का ठाकुर होटल बस स्टैंड बन गया है. यात्रीयों को खड़े होने की जगह नहीं बची. इस विषय पर एस.टी. वरिष्ठ अधिकारियों से पुछने पर उनसे संपर्क नहीं हो सका.

Kondhali bus stand Thakur Hotel
Kondhali bus stand 2