Published On : Thu, Jun 19th, 2014

काटोल को जिला बनाएं


सर्वपक्षीय दलों, संगठनों ने ज्ञापन सौंपा


काटोल

ktol
विभिन्न सामाजिक संगठनों और राजनीतिक नेताओं ने आज 19 जून को काटोल को जिला बनाने की मांग को लेकर उपविभागीय अधिकारी (राजस्व) को एक ज्ञापन सौंपा.

पिछड़े क्षेत्रों का विकास होगा
विदर्भ के 8 जिलों का विभाजन कर नए जिले बनाने की मांग बरसों पुरानी है. इसी में नागपुर जिले का विभाजन कर काटोल को जिला बनाने की मांग भी शामिल है. तालुका के क्षेत्रफल, काम का निरंतर होता विस्तार, व्यवसाय और कृषि उद्योगों का विचार करते हुए नया जिला बनाया जा सकता है. इससे पिछड़े क्षेत्रों का तेजी से विकास होगा. इस आशय का एक ज्ञापन कृति समिति ने अधिकारी के सुपुर्द किया.

सर्वपक्षीय मांग
ज्ञापन पर नगर परिषद उपाध्यक्ष राहुल देशमुख, कृषि उत्पन्न बाजार समिति के दिनेश ठाकरे, पं. स. सभापति ताई खंडाते, नागपुर जिला कांग्रेस कमेटी के महासचिव प्रताप ताटे, वीनस क्लब के भाविक खोना, शिवसेना तालुका प्रमुख लेखनदास वानखेड़े, रिपब्लिकन आघाडी के हर्षल बन्सोड आदि ने हस्ताक्षर किए थे. इस अवसर पर संजय डांगारे, प्रा. विजय कडु, हेमराज सातपुते, नगरसेवक गणेश चन्ने, राष्ट्रवादी विद्यार्थी कांग्रेस के जिलाध्यक्ष अमित काकड़े, गणेश सावरकर, दिगांबर डोंगरे, वैभव राउत, पंजाबराव रोहनकर आदि उपस्थित थे.