Published On : Sat, May 3rd, 2014

एटापल्ली : …. तो 85 गांवों का संपर्क टूट जाएगा दुनिया से

Advertisement


अंगद का पैर बना बिजली का खंभा


भांडारकर नाले के पुल का काम ऱोक़ा


एटापल्ली

Bijli Khamba
अंगद का पैर बनकर खड़े बिजली के खंभे ने भांडारकर नाले के पुल का काम ऱोक दिया है. अगर समय रहते इस पुल का काम पूर्ण नहीं किया गया तो आगामी बारिश के दिनों में 85 गांवों का संपर्क शेष दुनिया से टूट जाएगा.

तालुका के एटापल्ली-गट्टा मार्ग स्थित भांडारकर नाले पर लोकनिर्माण विभाग पिछले एक साल से एक बड़े पुल का निर्माण कर रहा है. पुल की ऊंचाई अधिक है. बीच में आ रहे महावितरण के दो खंभे इस पुल का निर्माण रोके खड़े हैं. बिजली वितरण करनेवाले तार भी बीच में आ रहे हैं. बारिश से पहले इन खंभों क़ो हटाकर पुल का निर्माणकार्य पूरा नहीं किया गया तो तालुका के कोई 85 गांवों का संपर्क बाकी दुनिया से टूट जाएगा.

Advertisement
Advertisement

न राशन मिलेगा, न स्वास्थ्य सुविधाएं
पंचायत समिति के पूर्व सदस्य रैनेन्द्र येमला ने इस मामले पर चिंता जताते हुए कहा कि यातायात बन्द होने से ग्रामीणों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा. इन लोगों को न तो राशन मिल पाएगा, न स्वास्थ्य सुविधाएं मिल पाएंगी, न कर्मचारी समय पर आना-जाना कर सकेंगे और न ही तालुका मुख्यालय ही जा पाएंगे. येमला ने मांग की है कि बिजली बोर्ड तत्काल दोनों खंभों को वहां हटाए और पुल के निर्माणकार्य को आगे बढ़ाने में मदद करे.

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement