Published On : Tue, Aug 19th, 2014

उमरखेड़ : 164 गांवों के सरपंच 4 दिनों से अनशन पर


उपविभागीय अधिकारी के तबादले की मांग

उमरखेड़

ansahan (Umarkhed)
स्थानीय उपविभागीय अधिकारी राजेश पारनाइक के कथित अपमानजनक व्यवहार के विरोध और उनके तबादले की मांग को लेकर पिछले 4 दिनों से 164 गांवों के सरपंच सामूहिक श्रृंखला अनशन पर हैं, मगर अब तक उनकी कोई सुनवाई नहीं हुई है. तहसील कार्यालय के प्रांगण में अनशन पर बैठे ये सरपंच उमरखेड़-महागांव तालुका के हैं.

सरपंचों के अनशन पर बैठने से गांवों के विकास कार्य प्रभावित हो रहे हैं. सरपंचों की जिद है कि जब तक पारनाइक का तबादला नहीं हो जाता, वे यहां से हिलेंगे भी नहीं. सरपंच संगठन के उमरखेड़ तालुकाध्यक्ष गजानन कदम और महागांव तालुका के अध्यक्ष राजीनकर ने कहा है कि तबादले के मांग पूरी होने तक उनका आंदोलन जारी रहेगा.
सरपंचों के अनशन को अब तक विधायक विजय खडसे, पूर्व विधायक प्रकाश पाटिल देवसरकर, विधायक ख्वाजा बेग, राकांपा के जिलाध्यक्ष नानाभाऊ गाडबैले, रिपाई आठवले गुट के जिला कार्याध्यक्ष महेंद्र मानकर, भाजपा के डॉ. विश्वनाथ विनकरे, पूर्व निर्माणकार्य सभापति तातु देशमुख सहित लगभग सभी राजनीतिक दलों और सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधि अनशन मंडप में जाकर अपना समर्थन घोषित कर चुके हैं. इस बीच, रिपाई आठवले गुट के कार्याध्यक्ष महेंद्र मानकर ने कहा है कि शीघ्र पारनाइक का तबादला नहीं हुआ तो उनका संगठन तीव्र आंदोलन करेगा.