Published On : Fri, Aug 29th, 2014

उमरखेड़ (यवतमाल) : पानी तो सबको बचाना होगा – कालबांडे


उमरखेड़

पानी का महत्व सबको समझाने के लिए ही जलदिंडी का आयोजन किया गया है. जलदिंडी के माध्यम से ‘सर्वजल अभियान’ चलाया जा रहा है. इसका अर्थ यह है कि जलसंकट से निपटने के लिाए, पानी की बचत करने के लिए सभी को आगे आने की गरज है. यह प्रतिपादन प्रा. ज्योति कालबांडे ने किया.

मिलिंद महाविद्यालय में राष्ट्रीय सेवा योजना द्वारा आयोजित व्याख्यान में ‘जलसंवर्धन’ विषय पर वे बोल रहीं थी. कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रा. प्रदीप इंगोले ने की. उन्होंने भी ‘पानी के महत्व और अपनी जिम्मेदारी’ विषय पर अपनी बात रखी. राष्ट्रीय सेवा योजना के सभी स्वयंसेवकों की उपस्थिति में प्रा. कालबांडे ने आगे कहा कि राज्य में इस साल काफी कम बारिश हो रही है. मगर हर साल होने वाली बारिश के पानी को हम बचा नहीं पाते. जिससे पर्याप्त मात्रा में बारिश होने के बाद भी जलसंकट बना रहता है. इसके बारे में हमें जनजागृति करने की जरूरत है.

इस कार्यक्रम का आयोजन राष्ट्रीय सेवा योजना के कार्यक्रम अधिकारी प्रा. अनिल कालबांडे ने किया था. कार्यक्रम का संचालन विजय कांबले और आभार प्रदर्शन आरती बरडे ने किया.


Representational pic

Representational pic