Published On : Sat, Jun 28th, 2014

उमरखेड़ : तहसील कार्यालय में दलाल सक्रिय, नागरिकों की लूट बढ़ी


उमरखेड़

स्थानीय तहसील कार्यालय में विभिन्न कार्यों के लिए आनेवाले लोगों की लूट बढ़ गई है. यहां अनेक ऐसे महा ई सेवा केंद्र के लोग ठिया जमा कर बैठ गए हैं जिनके पास लाइसेंस भी यहां का नहीं है. महा ई सेवा केंद्रों के दलाल लोगों को जमकर लूट रहे हैं.

15-16 महा ई सेवा केंद्र
उमरखेड तालुका के विभिन्न गांवों में 15-16 महा ई सेवा केंद्र खोले गए हैं. सरकार ने ये महा ई सेवा केंद्र इसलिए खोले हैं, ताकि लोगों को छोटे-मोटे कामों के लिए भी उमरखेड़ तहसील कार्यालय के चक्कर न लगाने पड़ें. कुछ गांवों के महा ई सेवा केंद्र संचालकों ने किसी अन्य स्थान का लाइसेंस होने के बावजूद तहसील कार्यालय में अपना केंद्र खोल रखा है. बस, कागज पर लाइसेंस नंबर वही डाला जाता है, जहां का वह होता है.

लूटपाट पर रोक लगाने की मांग
महा ई सेवा केंद्र संचालकों की मनमानी तहसील कार्यालय में बढ़ गई है. इतना ही नहीं, दस्तावेजों पर लगने वाले मुद्रांक और रेवेन्यू स्टैम्प की बिक्री भी मनमाने तरीके से हो रही है. नागरिकों ने उपविभागीय अधिकारी और तहसीलदार से इस तरफ ध्यान देने और महा ई सेवा केंद्र संचालकों द्वारा हो रही नागरिकों की लूटपाट पर रोक लगाने की मांग की जा रही है.
maha e-seva