Published On : Mon, Aug 4th, 2014

उमरखेड़ : गायन में लड़कियां आगे तो तबला में लड़के


उमरखेड़ के संगीत महाविद्यालय का परीक्षाफल रहा 99 प्रतिशत


उमरखेड़

waghmare vidyalay
अखिल भारतीय गायन महाविद्यालय मुंबई द्वारा अप्रैल-मई 2014 में ली गई संगीत परीक्षा में उमरखेड़ के वाघमारे सर के संगीत महाविद्यालय का परीक्षा फल 99 प्रतिशत रहा है. गायन परीक्षा में लड़कियों ने तो तबला वादन में लड़कों ने बाजी मारी है.

प्रारंभिक गायन परीक्षा में तेजस्विनी पाटिल, शीतल पाटिल, प्रणिता दुधेवार, सौरभ माने, श्याम परबत, सात्विक वाघ और सारंग भालेराव ने और तबला वादन प्रारंभिक परीक्षा में श्रीपाद ओझलवार, आदित्य दराडे, लोकेश वर्मा, नरेंद्र पाटिल ने प्रथम श्रेणी में स्थान हासिल किया है. हार्मोनियम में रुपाली बुचडे प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण हुई.
प्रवेशिका पूर्ण गायन परीक्षा में मुक्ता ओझलवार, ओम बोकड़े और प्रवेशिका तबला में ज्ञानेंद्र मुडे व आदित्य पत्रे ने पहले स्थान पर सफलता हासिल की है. प्रवेशिका पूर्ण तबला में ज्ञानेंद्र मुडे, निलेश चव्हाण, भोलाप्रसाद झाड़े, गजानन टापरे, स्वप्निल टापरे ने विशेष अंक प्राप्त किए. मध्यमा पूर्ण हार्मोनियम में अभिलाष पंडागले और तबला परीक्षा में विशाल वाघमारे ने विशेष अंक हासिल किए. विशारद गायन परीक्षा में प्रशांत आत्राम प्रावीण्यता के साथ उत्तीर्ण हुआ. सभी विद्यार्थियों ने अपनी सफलता का श्रेय संगीत महाविद्यालय के प्राच्रार्य वाघमारे को दिया है. ग्रामीण क्षेत्र में पिछले 25 सालों से संगीत की शिक्षा दे रहे वाघमारे सर ने महाविद्यालय के उत्कृष्ट परीक्षाफल की परंपरा कायम रखी है.