Published On : Tue, May 27th, 2014

अर्जुनी/मोरगांव रहा बंद, निकला शांति मोर्चा


कवलेवाड़ा में खोब्रागड़े की जलने से हुई मौत का मामला

अर्जुनी/मोरगांव

Sahnti Morcha 3
कवलेवाड़ा में संजय खोब्रागड़े की जलने से हुई मौत के आरोपियों को कड़ी सजा देने और खोब्रागड़े की पत्नी देवकाबाई खोब्रागड़े की रिहाई की मांग को लेकर आज समता सैनिक दल ने अर्जुनी/मोरगांव में बंद रखा. घटना के विरोध में शांति मोर्चा भी निकाला गया. मोर्चा में समता सैनिक दल के 3000 सदस्यों ने सैनिकों की पोशाख में हिस्सा लिया.

स्थानीय शायना कॉम्प्लेक्स स्थित समता सैनिक दल के कार्यालय से निकला मोर्चा गांव के प्रमुख रास्तों से होता हुआ तहसील कार्यालय पहुंचा. दल का बैंड पथक भी मोर्चा के साथ था. मोर्चा का नेतृत्व समता सैनिक दल के जिलाध्यक्ष बोधानंद गुरूजी, रत्नदीप दहिवले, प्रा. गजेंद्र गजभिये, दिलवर रामटेके, डॉ. अनय अम्बादे, हीरकचंद टेम्भुर्ने, के. एम. भैसारे ने किया. तहसील कार्यालय में मोर्चा सभा में तब्दील हो गया, जिसमें बोधानंद गुरूजी, रत्नदीप दहिवले, प्रा. गजेंद्र गजभिये, दिलवर रामटेके के भाषण हुए. वक्ताओं ने संजय खोब्रागड़े के बयान के आधार पर सभी 6 आरोपियों को कड़ी सजा देने की मांग की.

shanti Morcha 2
इस मौके पर तहसीलदार के. जेड. दडमल, कटकमवार, पुलिस इंस्पेक्टर संदीप भागवत को एक ज्ञापन सौंपा गया, जिसमें संजय खोब्रागड़े के बयान के आधार पर सभी 6 आरोपियों को कड़ी सजा देने, मामले की सीबीआई जांच करने, संजय खोब्रागड़े की पत्नी देवकाबाई की निर्दोष रिहाई और गंगाझरी पुलिस स्टेशन के इंस्पेक्टर पाटिल को निलंबित करने की मांग की गई है. उन्होंने ज्ञापन सरकार को भेजने का आश्वासन दिया. इस मौके पर गांव में पुलिस का कड़ा बंदोबस्त किया गया था.

Shanti Morcha