Published On : Sat, Apr 26th, 2014

अमरावती: 1,000 टन सोयाबीन का कुटार खाक, 17 लाख की क्षति

अमरावती.

कठोरा मार्ग पर गोपालपुर के निकट यहां से 12 किलोमीटर दूरी पर स्थित सुपर स्पार्क बायोफ्यूल नामक जैविक कारखाने के प्रांगण में शुक्रवार की दोपहर 2.30 बजे सोयाबीन के कुटार जलकर खाक हो गया. प्लांट के संचालक सागर शेलके ने बताया कि इस आग में 1000 टन कुटार, जिसकी कीमत लगभग 17 लाख है, की क्षति हुई है. आग पर काबू पाने के लिए अमरावती, चांदुर बाजार तथा अचलपुर अग्निशमन विभाग के 20 दमकलों को कड़ी मशक्कत करनी पड़ी. आग लगने के कारण की फिलहाल जानकारी नहीं मिल पाई है.
शुक्रवार की दोपहर 2.30 बजे जैसे ही ढेर ने आग लगी, अग्निशमन विभाग को सूचित किया गया. आग की विकरालता को देखते हुए अमरावती सहित चांदुर बाजार तथा अचलपुर से फायर ब्रिगेड को बुला लिया गया था. इस बीच कारखाने के कर्मचारियों सहित कुछ अन्य लोगोंने आग पर काबू पाने का भरसक प्रयास किया. चिलचिलाती धूप तथा तेज हवाओं के चलते आग ने संपूर्ण ढेर को अपनी चपेट में ले लिया था.
प्लांट की मशीनें सुरक्षित
यहां इस सुपर स्पार्क बायोफ्यूल प्लांट में सोयाबीन कुटार से जैविक कोयला बनाया जाता है. इस कोयले का उपयोग चुनिंदा मुंबई, औरंगाबाद, नाशिक जैसे शहर में मौजूद कारखानों के बॉयलरों में होता है. आग ने भले ही सोयाबीन के कुटार को अपनी चपेट में लिया, लेकिन कारखाने की मशीनें पूरी तरह सुरक्षित हैं. आग पर काबू पाने के लिए एक ओर से दमकल से पानी की बौछार की गई, दूसरी ओर ट्रैक्टर एवं जेसीबी की मदद से सलामत कुटार को हटाने का प्रयास भी जारी था. काफी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया जा सका.

सुपर स्पार्क बायोफ्यूल नामक जैविक कारखाने के सोयाबीन का जल कर खाक हुआ कुटार.

सुपर स्पार्क बायोफ्यूल नामक जैविक कारखाने के सोयाबीन का जल कर खाक हुआ कुटार.