Published On : Fri, Apr 11th, 2014

अकोला: 7 उम्मीदवारों का भाग्य ईवीएम मशीन में बंद

 

जिले में अप्रिय घटना नहीं

पुलिस का तगड़ा बंदोबस्त रहा

अकोला.

Akola-1 अकोला लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र में सभी 6 वि. स. क्षेत्रों में कुल मिलाकर 1755 मतदान केन्द्रों पर ठीक सुबह 7 बजे से मतदान का कार्य शुरु हुआ. सभी केन्द्रों पर जिला व पुलिस प्रशासन द्वारा सभी तैयारियां पूर्ण की गयी. सायं 6 बजे तक मतदाताओं ने मतदान किया. अकोला लोकसभा चुनाव के लिये 7 उम्मीदवारों का भाग्य इवीएम मशीन में बंद हो गया है.

अकोला जिले के कई मतदान केन्द्रों पर कई मतदाताओं के नाम सूचि में थे, लेकिन मतदार केन्द्र में मार्क सूचि में नाम न रहने से मतदाता मतदान नहीं कर सके. कुछ स्थानों पर ठीक समय पर इवीएम मशीन में तकनीकी खराबी आयी उसे तुरंत दुरुस्त कर लिया गया था. कई नये मतदाताओं के नाम सूचि में न आने से वे मतदान से वंचित रह गये. जिला प्रशासन द्वारा वितरित की गयी वोटर स्लीप कई मतदाताओं के घरों में नहीं पहुंची, जिससे इस प्रशासनिक उपक्रम में त्रुटियां दिखाई दी. अकोला लोकसभा चुनाव में केन्द्रों पर सुबह 7 बजे से मतदान प्रक्रिया शुरु हुई. पहले 4 घंटों तक मतदान धीमी गति से हुआ. दोपहर बाद मतदान प्रक्रिया ने जोर पकड़ा. मतदान केन्द्रों पर युवा व बुजुर्ग मतदाताओं ने उत्साह से मतदान किया. विकलांग, नेत्रहीन और बुजुर्गों ने भी अपने वोट डाले. दोपहर बाद शाम तक केन्द्रों पर लम्बी कतारे दिखाई दे रही थी. सभी मतदान केन्द्रों पर पुलिस का तगड़ा बंदोबस्त रहा. अकोला लोकसभा निर्वाचन क्षेत्रों में शांतिपूर्वक मतदान हुआ. कहीं से किसी अप्रिय घटना के समाचार नहीं मिले है. जिला चुनाव निर्णय अधिकारी व जिलाधिकारी अरुण शिंदे तथा जिला पुलिस अधीक्षक वीरेन्द्र मिश्र के मार्गदर्शन में सभी मतदान केन्द्रों पर शांतिपूर्वक मतदान लिया गया.

मतदाता सूचि में नाम देखते हुए युवा मतदाता

मतदाता सूचि में नाम देखते हुए युवा मतदाता

132 कर्मचारियों पर होगी फौजदारी कार्रवाई

अकोला लोकसभा चुनाव में मतदान प्रक्रिया के लिये मतदान केन्द्रों पर न जाकर अनुपस्थित रहनेवाले 132 कर्मचारियों पर चुनाव कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में फौजदारी कार्रवाई की जाएगी. ये कर्मचारी 9 अप्रैल को अनुपस्थित रहे थे. जिसमें मुर्तिजापुर के 25, बालापुर 20, अकोट 28, अकोला पश्चिम 14, रिसोड वि. स. क्षेत्र में 45 कुल 132 अनुपस्थित रहे कर्मचारियों के स्थान पर आरक्षित पथक के कर्मचारियों को मतदान केन्द्रों पर भेजा गया है. यह जानकारी सहायक चुनाव निर्णय अधिकारी ने दी है.

केन्द्र पर मतदाताओं की लंबी कतार

केन्द्र पर मतदाताओं की लंबी कतार