Published On : Sat, Sep 6th, 2014

सावरगांव : विद्युत क्षेत्र तांत्रिक कामगार यूनियन का 37वां वर्धापन दिन समारोह कार्यक्रम संपन्न


wardhapan din Anil deshmukh
सावरगांव 

4 सितंबर को लक्ष्मी भवन पंचवटी काटोल में विद्युत क्षेत्र तांत्रिक कामगार यूनियन का 37वां वर्धापन दिन समारोह कार्यक्रम संपन्न हुआ. कार्यक्रम का उद्घाटन ना. अनिलबाबू देशमुख अन्न और नागरी पुरवठा मंत्री (महा.) के हांथों हुआ.

इस दौरान अध्यक्ष स्थान पर केंद्रीय उपाध्यक्ष सी. बी. श्रीगणी (चंद्रपुर) थे. प्रमुख अतिथि नारायण सोनवणे, केंद्रीय उप. सरचिटणीस संघटना (भुसावल), अरविंदजी भादिकर अधीक्षक अभियंता ग्रामीण नागपूर बिजली वितरण कंपनी, चंद्रशेखरजी चिखले उपाध्यक्ष जि.प नागपूर, रवि वैद्य विश्वस्त कामगार कल्याण मंडल मुंबई, अनुप खराडे पूर्व जि.प. सदस्य, नागपूर आदि उपस्थित थे. इस दौरान अनिलबाबू देशमुख के हांथों दिपप्रज्वलन और अरविंद भादिकर ने ध्वजारोहन करके कार्यक्रम की शुरुवात की. सेवानिवृत्त कामगार श्रीराम खंडाते, दिपक नंदेश्वर, गिरधारी जाधव को शाल, श्रीफल और स्मृृति चिन्ह, सोने की अंघुठि देकर विशेष सत्कार अनिल देशमुख के हांथों किया गया. एम.आय.डी.सी. नागपूर से चंद्रकांत खंडालकर कार्यकारी अभियंता के साथ ही 26 सेवानिवृत्त कामगारों का भी सत्कार किया गया.

wardhapan din Anil deshmukh
मान्यवरों की उपस्थिति में कुल 66 तांत्रिक कामगारों ने विद्युत क्षेत्र तांत्रिक संघटना में प्रवेश लिया. इस दौरान अनिल देशमुख ने मार्गदर्शन करते हुए कहा की मै अपने संघटना के अनेक कार्यक्रमों में उपस्थित रहा हु. नागपूर विभाग के तांत्रिक कामगारों से मेरा नजदीकी लगाव है. भविष्य में कभी भी तांत्रिक कामगारों को किसी भी प्रकार की समस्या आये तब मै और मेरी पार्टी आपके साथ हमेशा खडी रहेगी ऐसा आश्वासन दिया. अरविंद भादिकर ने अपने वक्तव्य में कामगारों को सुरक्षा के साधन का उपयोग करना चाहिए ऐसी सुचना दी. साथ ही अन्य मान्यवरों ने तांत्रिक बांधवों को 37 वे वर्धापन दिन की शुभकामनायें दी. इस दौरान कार्यक्रम मे चंद्रपुर, गडचिरोली, भंडारा, गोंदिया, अकोला,अमरावती, वर्धा, कोराडी, खापरखेड़ा, वाशीम से हजारों की संख्या में तांत्रिक कामगार उपस्थित थे.

कार्यक्रम की सफलता के लिए किशोर फाले, भूदेव बावनकुले, राजू तरटे, माधव घंगारे, किशोर सावरकर, राजकुमार गोतमारे, अजय मोरे, चंद्रकांत तिजारे, प्रशांत नन्होरे, सुभाष जाधव, विजय महल्ले आदि ने परिश्रम लिया.
wardhapan din Anil deshmukh