Published On : Mon, Apr 28th, 2014

सालेकसा : 97 खेत तालाबों का होगा निर्माण


सालेकसा
 

केंद्र सरकार एवं राज्य सरकार की ओर से क्रियान्वित जलप्रबंधन कार्यक्रम के तहत सालेकसा तहसील में 97 खेत तालाब निर्माण किए जाएंगे. जिससे इस योजना का लाभ किसानों को मिलेगा.

पडीत जमीन को खेतीयुक्त बनाने, सिंचाई का दायरा बढाने तथा गांवों में पानी की समस्या दूर करने के उद्देश्य से सालेकसा तहसील के 42 पंचायतों में से 17 पंचायतों के 33 गांवों में यह उपक्रम क्रियान्वित किया जा रहा है. उक्त उपक्रम को क्रियान्वित करने का जिम्मा श्री गणेश ग्रामीण शिक्षण संस्था गोंदिया को सौंपा गया है. बाकायदा इसके सफल क्रियान्वयन के लिए गांव स्तर पर जलप्रबंधन समितियां बनाई गई है जो कि जलप्रबंधन कार्यक्रम के तहत किएजा रहे कामों की देखभाल करती है. हालांकि तहसील के कुल 6187.64 हेक्टर क्षेत्र में यह कार्यक्रम लागू किया गया है. इस कार्यक्रम के तहत मृदसंधारण, पानी की व्यवस्था, खेत तालाब, सीमेंट- मिट्टी के बांध,पडीत जमीन में बंधी तैयार करना, खेतों के पुराने धुरे की मरम्मत करना, वृक्षारोपण एवं फल उत्पादन का काम तहसील में प्रगति पर है.
Talaab
जलप्रबंधन उपक्रम के तहत तहसील में 97 खेत तालाबों का निर्माण किया जा रहा है. इसमें साकरीटोला(झालिया)में 2, गोंडीटोला(झालिया) में 2, झालिया 2, कावराबांध 6, ब्राम्हणी 5, बिंझली 3, खोलगढ. 4, रोंढा 5,धानोली 7, घोंसी 2, नानव्हा 2, निंबा 5, दरबडा  2, आमगांव खुर्द 3, सालेकसा 4, दलदलकुही 3, दिवेतेसुर 2, नवाटोला 4, धनेगांव 2, कोसमतर्रा 4, र्देकसा 4, टोयागोंदी 3,जमाकुडो  3, बंजारी 3, कोपालगढ. 10, विचारपुर 2, चांदसूरज 2, सांवगी में 3 खेत तालाबों का निर्माण किया जाएगा.
यह खेत तालाब किसानों के खेत में बनाए जाएंगे. इसके लिए किसान को अपनी जमीन का 7/12 समिति के पास जमा करना होगा. तालाब निर्माण के लिए आई निधि का अनुसूचित जाति एवं जन जाति के लोगों को 5 प्रतिशत एवं अन्य को 10 प्रतिशत ग्रामपंचायत विकास निधि में जमा करना होगा.