Published On : Sat, Feb 22nd, 2014

वर्धा: चुनाव की तैयारी में जुटा जिला प्रशासन

wardha prashasan

वर्धा:स्थानीय जिलाधिकारी कार्यालय के सभागृह में आगामी लोकसभा चुनाव को देखते हुए मतदाताओं के पंजीयन, पहचान पत्रों की अपडेट जानकारी तथा चुनाव की पूर्वतैयारी हेतू सभी अधिकारियों की बैठक आयोजित की गई.

इस दौरान जिलाधिकारी एन.नवीन सोना ने अधिकारियों से मार्गदर्शन कर आगामी लोकसभा के चुनाव में कोई भी नागरिक मतदान से वंचित ना रहे. इसलिए मतदाता पंजीयन संदर्भ में आवश्यक सूचनाएं तथा निर्देश दिए. साथही जिन मतदाताओं के नाम मतदाता सूची में नहीं है. ऐसे सभी मतदाताओं के लिए तहसील स्तर पर वोटर हेल्पलाईन शुरू किए जाने की जानकारी दी.

विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र की सूची प्रकाशित की गई है. इन सूचियों में जिन मतदाओं के नाम शामिल नहीं है. तथा 1 जनवरी 2014 को 18 वर्ष पुर्ण हुए सभी विद्यार्थियों के लिए तहसील स्तर पर वोटर हेल्प सेंटर की शुरुआत की गई है. नए मतदाताओं ने अपने नाम शिघ्र ही मतदाता सूची में पंजीयन कराए. ऐसा आह्वान भी जिलाधिकारी एन.नवीन सोना ने किया. जिला एवं तहसील स्तर पर महाविद्यालय के सभी प्राचायरें की बैठक लेकर 18 वर्ष पुर्ण हुए ऐसे विद्यार्थियों का नाम मतदाता सूची में पंजीयन करवाने के निर्देश देते हुए हर महाविद्यालय में मतदाता पंजीयन की जिम्मेदारी कैंपस एम्बेसिडर को नियुक्त कर सौंपी गईहै. साथ ही विद्यार्थियों को भी पंजीयन हेतू आह्वान किया गया है. वर्धाजिले के आर्वी, देवली, हिंगनघाटतथा वर्धाइन चार निर्वाचन क्षेत्र में 10 लाख 6 हजार 22 मतदाता है. इनमें से 5 लाख 25 हजार 286 पुरुष तथा 4 लाख 80 हजार 736 महिला मतदाता शामिल है. देवली और हिंगनघाटइन तहसील के मतदाता सूची में महिला मतदाताओं के नाम पंजीयन हेतू विशेष अभियान चलाने की बात कही गई है.

इस दौरान उपजिलाधिकारी शैलेंद्र मेश्राम,निवासी उपजिलाधिकारी सुनिल गाढे., हिंगनघाट के उपविभागीय अधिकारी उमेश काले, आर्वी के सुनिल कोरडे, वर्धा के वैभव नावडकर, जिला पुर्नवसन अधिकारी विजया बनकर, उपजिलाधिकारी बी. एस. मेश्राम, प्रकाश शर्मा, एस.बी. जाधव, उपजिलाधिकारी हरिष धार्मिक तथा तहसीलदार, अधिकारी एवं कर्मचारी आदि उपस्थित थे.