Published On : Tue, Apr 8th, 2014

लोकसभा चुनाव में किसी को समर्थन नहीं

img773

बारा बलुतेदार महासंघ की घोषणा, विधानसभा चुनाव की तैयारी करेंगे 
 
उमरखेड़ : बारा बलुतेदार महासंघ इस दफा चुनाव में किसी को भी समर्थन नहीं देगा और न ही किसी के पक्ष में खड़ा होगा, बल्कि इसी साल होनेवाले राज्य विधानसभा के चुनाव के लिए अपने आपको तैयार करेगा और अपनी ताकत का इजहार करेगा|
बारा बलुतेदार महासंघ की उमरखेड़ में हुई बैठक में यह फैसला किया गया. महाराष्ट्र नाभिक महामंडल की उमरखेड़ शाखा के तत्वावधान में सम्पन्न बैठक में महासंघ के अमरावती विभागीय अध्यक्ष राजेंद्र मुके और सचिव संतोष मोतेवार, नाभिक महामंडल के जिलाध्यक्ष संजय मादेशवार और संगठक दिलीप मादेशवार, प्रेम हनवते, राहुल सोनु, प्रभाकर दिघेवार, संजय भंडारे प्रमुख रूप से उपस्थित थे|
भुखमरी की नौबत
इस मौके पर राजेंद्र मुके ने कहा कि 2010 में स्थापित महासंघ से बारा बलुतेदार वर्ग की अनेक जातियां सम्बद्ध हैं. इन जातियों में न्हावी, धोबी, सुतार, लोहार, भोई, कुंभार, बेलदार, रंगारी, पिंजारी, कासार, शिंपी, चांभार, सोनार, गुरव, गोपाला, मातंग, कोली आदि शामिल हैं. पारम्परिक व्यवसाय करनेवाली इन जातियों पर भुखमरी की नौबत आ गई है. उनके व्यवसायों पर विदेशियों का भी अतिक्रमण हो गया है. राज्य में इन समुदायों की जनसंख्या 41 फीसदी है|
समस्याएं हल करने की तरफ ध्यान नहीं 
श्री मुके ने कहा कि राज्य की मोर्चा सरकार को अनेक दफा ज्ञापन देने के बाद भी उनकी समस्याएं हल करने की तरफ कोई ध्यान नहीं दिया गया है. इसलिए इस दफा किसी भी पार्टी को समर्थन देने की बजाय संगठन अपने आपको सितंबर-अक्तूबर में होनेवाले विधानसभा चुनाव के लिए मजबूत करेगा और अपनी ताकत दिखाएगा|
बैठक का संचालन नाभिक महामंडल के अध्यक्ष पुंडलिक कुबड़े, प्रास्ताविक भाषण लोहार समाज के अध्यक्ष गणेश शिंदे और आभार प्रदर्शन सोनार युवा मंच के अध्यक्ष लक्ष्मीकांत मैड ने किया. बैठक में भानुदास केलझरकर,  नारायण इटकरे, बसवेशवर क्षीरसागर, अनिल वान्नरे, प्रशांत मेने, सुभाष सरजे, जगदीश दरने, फिरोज अंसारी आदि प्रमुख रूप से उपस्थित थे|