Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Wed, Jul 1st, 2020

    मामले दर्ज होने के बाद आरोपी शिवसेना प्रमुख मंगेश कडव हुआ फरार

    नागपुर- शिवसेना के शहर प्रमुख मंगेश कडव पर 3 एफआईआर दर्ज की गई है. जिसमें पीड़ितों ने अपने बयान दर्ज किए है. कडव ने विक्रम लाभे नामक पीड़ित का बंगला हड़पने और उसके घर के गहने, नकद भी हड़प किए है. पीड़ित हैदराबाद में रहता है और उसका नागपुर के अंबाझरी में बंगला है. मंगेश ने इस बंगले पर ही कब्ज़ा कर लिया और उसके बदले में पीड़ित से ही पैसे मांगने लगा. इसके बाद लाभे जब बंगले पर पहुंचे तो कडव और उसके समर्थकों ने लाभे की पिटाई कर दी और उन्हें बंधक बनाकर बंगला छोड़ने के लिए डेढ़ करोड़ रुपए की मांग की. इसके बाद लाभे ने इस मामले में अंबाझरी पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई है. इसके साथ दूसरे मामले में पूर्व नगरसेविका के पति देवानंद शिर्के के साथ भी दूकान का सौदा मंगेश कडव ने किया था.

    कडव से पीड़ित देवानंद शिर्के ने 2013 प्रॉपर्टी का एक करार किया था. जिसमें मानेवाड़ा रोड पर दूकान के 3 कमरे का सौदा था. शिर्के ने मंगेश कडव को चेक और कॅश मिलाकर 18 लाख रुपए दिए थे. रजिस्ट्री के बाद बाकी के पैसे देने थे. लेकिन इसके लिए मंगेश शिर्के को टालमटोल करता रहा. दूकान के नाम पर कडव ने बैंक से पैसा लेकर उसने शिर्के को फसाया है. इस तनाव के कारण देवानंद ने आत्महत्या जैसा घातक कदम उठाया था.यह मामला भी दर्ज किया गया है.

    इसके साथ ही तीसरे मामले में कडव और उसकी पत्नी रुचिता की अयोध्या नगर निवासी दिनेश आदमने से पुरानी जान पहचान थी. आदमने ने कडव दंपत्ति से 16 लाख रुपए में फ्लैट की खरीदी का सौदा किया था. उन्होंने नगदी और चेक के माध्यम से कडव को 15 लाख रुपए दिए थे. बकाया 1 लाख रुपए कब्जे के समय देने थे. इसके बाद कडव ने फ्लैट की रेजिस्ट्री और रुपए लौटाने से इंकार कर दिया. आदमने जब भी मंगेश से पैसे मांगने जाता तो उसे जान से मारने की धमकी दी जाती. पीड़ित काफी समय से पुलिस स्टेशन के चक्कर काट रहा था. लेकिन शिवसेना कार्यकर्ता अशोक धापोड़कर ने कडव के खिलाफ बजाज नगर पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई और पुलिस आयुक्त ने कडव से जुडी शिकायतों को क्राइम ब्रांच को जांच करने के आदेश देने के बाद पीड़ितों ने शिकायत दर्ज करानी शुरू कर दी.

    इस मामले के बाद कडव फरार बताया जा रहा है. इस मामले में क्राइम ब्रांच के एडिशनल सीपी ( CRIME BRANCH – ADDITIONAL CP ) डॉ. नीलेश भरने ने कहा की कडव फरार है और उसके खिलाफ मामले दर्ज किए गए है, उसे पकड़ने के लिए टीम प्रयास कर रही है.

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145