Published On : Tue, May 6th, 2014

देवरी : देवरी में व्यापारी को लूटा, अगवा भी किया


देवरी

राष्ट्रीय महामार्ग क्रमांक 6 स्थित र्भेगांव फाटे के पास यहां से 10 कि.मी. दूर छत्तीसगढ़ के बाघ नदी स्थित अपने पेट्रोल पंप की नगद राशि लेकर देवरी की ओर आ रहे एक व्यापारी दिनेश कुमार स्वरूपचंद जैन (52) से 1.91 लाख रु.नगदी और एक अंगूठी तथा सोने की चेन छीन ली. उन्हें वे लोग अपने साथ ले गए. पिछले 4 मई की रात 9.30 बजे के दौरान की इस घटना को 30 से 40 आयुवर्ग के बदमाशों ने अंजाम दिया.

ज्ञातव्य है कि बाघ नदी स्थित पेट्रोल पंप के मालिक दिनेश कुमार स्वरूपचंद जैन (52) देवरी के वार्ड नं.3 के निवासी है. वे अपने पेट्रोल पंप से 4 मई की रात 9.30 बजे के करीब अपने घर देवरी के लिए अपने वाहन क्र.एमएच35/पी-3111 से रवाना हुए. उनके पास पेट्रोल बिक्री से जमा राशि 1,91,000 रुपए थी. वे देवरी पहुंच ही रहे थे कि देवरी से 6 किलो मीटर दूरी पर र्भेगांव के फाटे के पास उनके वाहन को ओवरटेक करते हुए अज्ञात व्यक्तियों ने सिलवर रंग की वेरना वाहन क्र.एमपी09/सीबी-3619 सड़क पर टेढ़ी कर खड़ी कर दी.इस वाहन से 30-40 आयुवर्ग के तीन युवक उतरे और दिनेश जैन के वाहन में जा बैठे. दिनेश को उनके स्थान से हटाकर पिछली सीट पर बैठने के लिए पिस्तोल के बल पर मजबूर किया. इतना ही नहीं, उनके पास के 1.91 लाख रु.नगदी, ढाई तोले सोने की चैन और एक नवरत्न की अंगूठी छिन ली.चैन का मूल्य 50 हजार रु. और अंगूठी का मूल्य 30 हजार रु. बताया गया है. इस तरह उनसे 2,71,000 रु.की सामग्री छीन ली गई.

लुटेरों ने जैन को उनके देवरी निवास स्थान पर उन्ही के मोबाइल से संपर्क करने के लिए बाध्य किया और कहने के लिए बताया कि एक व्यक्ति घर आ रहा है उसे घर में रखी राशि दी जाए. 3 लुटेरों में से एक जैन के घर पहुंचा. लेकिन घर के लोगों ने बताया कि कोई राशि घर में नहीं है. जिसके बाद वह व्यक्ति वापस लौट गया. इसके बाद दिनेश जैन को बिठाकर फिर उसे वे लोग अपने साथ नागपुर की दिशा में रवाना हो गए. लेकिन मासुलकसा घाटी में वाहनों का जाम लगा था. इस दौरान लुटेरों को संदेह हुआ कि कहीं उनके लिए तो नाकाबंदी नहीं की गई है. इसी आशंका से उक्त वाहन वापस देवरी की ओर मोड़ दिया. कुछ दूर पहुंचने के बाद वाहन रोका और वाहन के चारों पहिए की हवा निकाली. वाहन की चाबी बाहर कचरे में फेंक दी. मोबाइल का सीमकार्ड भी तोड़कर फेंक दिया. दिनेश जैन को उक्त वाहन में अकेला छोड़कर वे लोग देवरी की दिशा में फरार हो गए.

इस घटना के बाद दिनेश जैन लगभग आधा किमी.पैदल चलकर आनंदसागर पहुंचे. उन्होंने अपनी आपबीती बताई. वहां के वीपिन मिश्रा ने इस घटना की जानकारी पुलिस को दी. देवरी पुलिस ने भादंवि की धारा 392,34 के तहत मामला दर्ज किया है. थानेदार संजू जॉन के मार्गदर्शन में सहायक पुलिस निरीक्षक भोगडे मामले की जांच कर रहे है. उल्लेखनीय है कि लुटेरों का वाहन वेरना उनके साथ ही ही घूम रहा था. जाहिर है कि लुटेरों की संख्या कम से कम चार रही होगी.

Representational pic

Representational pic