Published On : Wed, Jul 30th, 2014

चिखली : फसल बीमा योजना की अवधि 15 दिन बढ़ाई जाए

Advertisement


तालुका कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. भुसारी की मांग, कृषि मंत्री को ज्ञापन सौंपा

चिखली 

TCC Photo
इस वर्ष मानसून के देरी से आने की वजह से खरीफ की 8 प्रतिशत बुआई अभी भी पूरी नहीं हो सकी है. देरी से बारिश आने से परिसर में खरीफ की बुआई में भी देरी हो रही है. बावजूद इसके, खरीफ का फसल बीमा कराने के लिए 31 जुलाई तक की अवधि ही दी गई है. किसानों ने फसल बीमा कराने के लिए 15 दिन की अवधि बढाने की मांग की है. ताकि ज्यादा से ज्यादा किसान इस योजना में शामिल हो सकें.

Advertisement
Advertisement

यह मांग तालुका कांग्रेस कमेटी ने कृषि मंत्री राधाकृष्ण विखे पाटिल से की है. तालुका कृषि अधिकारी चिखली की मार्फ़त दिए गए ज्ञापन में कमेटी ने कहा है कि बारिश के देरी से आने से जो परिस्थिति पैदा हुई है उसको देखते हुए किसानों को फसल बीमा योजना में शामिल होने के लिए 15 दिन की समयावधि मिलना आवश्यक है.

ज्ञापन देते समय तालुका कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष डॉ. सतेंद्र भुसारी के साथ जिला परिषद सदस्य अशोकराव पडघान, बाजार समिति के प्रशासक पांडुरंग पाटिल भुतेकर, कांग्रेस कार्यकारिणी के सुनील पवार, श्याम वाकदकर, युवक कांग्रेस महासचिव राम डहाके, भिकाभाउ ठेंगे, पूर्व संचालक भानुदास थुट्टे, विजय वाघमारे, साहेबराव आंभोरे, प्रकाश करवंदे, ज्ञानेश्वर पडधान, गणेश गायकवाड़, प्रशांत देशमुख, गजानन केनेकर, शेषराव पाटिल, बालकृष्ण आंभोरे, पूर्व जि.प. सदस्य लिबाजी पानझाडे, रामधन मोरे, भगवान जावले, दिनकर पड़घान, बबन राजमाने उपस्थित थे. ज्ञापन की प्रतिलिपि विधायक राहुल बोंद्रे, जिला कृषि अधिकारी व तहसीलदार चिखली को भी भेजी गई है.

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement