Published On : Sun, Jun 8th, 2014

चंद्रपुर : संसर्गजन्य बीमारियों को रोकने के लिए करे उपाययोजना : जिलाधिकारी

Advertisement


जिलाधिकारी ने दिया आधिकारियों को आदेश


चंद्रपुर

Dr Mhaisekar
बरसात में होनेवाले डेंगू मलेरिया जैसे रोगों को रोकने के लिए स्वास्थ्य विभाग को उपाय योजना तैयार करने का आदेश जिलाधिकारी डा. दीपक म्हैसेकर ने दिया. जिलाधिकारी कार्यालय सभागृह में आयोजित बैठक में वे बोल रहे थे. जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी आशुतोष सलील, जिला शल्य चिकित्सक डा. प्रमोद सोनुने, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डा. अनिरूध्द आठल्ये, उपमुख्य कार्यकारी अधिकारी विवेक बोंद्रे व अन्य अधिकारी उपस्थित थे.

जिलाधिकारी ने कहा कि बरसात में संसर्गजन्य बीमारियां बडे. प्रमाण में होती हैं. इन बीमारियों से नागरिकों की जान खतरे में पड जाती है. इससे निपटने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने समय पर उपाय करना जरूरी है. इसके लिए कीटकजन्य बीमारी नियंत्रण कार्यक्रम चलाने की सूचना उन्होंने दी. संभावित बाढ के खतरेवाले गांवों में दवा का भंडारन करके रखने तथा बरसात में होनेवाली प्रसूति की रिपोर्ट तत्काल तैयार करने का आदेश दिया. उन्होंने कहा कि बरसात में होनेवाली बीमारियों के प्रति नागरिकों में जनजागृति करें. जो रोगी भर्ती होते हैं उनके रक्त की जांच तत्काल करके उसकी रिपोर्ट तुरंत रोगी को दें. उन्होंने नागरिकों को भी अपनी नियमित जांच करा लेने का आह्वान किया.

Advertisement
Advertisement

डा. आठल्ये ने बताया कि रोगों को नियंत्रित करने के लिए सारे उपाय किए जा रहे हैं. इसी प्रकार दक्षता दल की स्थापना की गई है. जिन गांवों में महामारी होगी वहां यह दल कम से कम तीन दिन या फिर महामारी नियंत्रित होने तक रहेगा. दवाओं को भरपूर स्टाक उपलब्ध है जो बरसात से पूर्व संबधित स्वास्थ्य केन्द्रों में पहुंचा दिया जाएगा. उन्होंने बीमारी से बचने के लिए नागरिकों से घर व परिसर को स्वच्छ रखने तथा सप्ताह में एक दिन सुखा दिवास मनाने का आह्वान किया.

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement