Published On : Sat, Apr 26th, 2014

चंद्रपुर : बाघ के हमले में मृत पेंदोर के परिवार को एक लाख रुपए की सहायता


चंद्रपुर.

पोंभुर्णा तहसील के भटाली निवासी प्रकाश लिंगाजी पेंदोर की हाल में बाघ के हमले में मौत हो गई थी. मृतक के परिवार से मुलाकात कर विधायक मुनगंटीवार ने वन विकास महामंडल के अधिकारियों की ओर से 75 हजार रुपए का धनादेश उसके परिजनों को प्रदान किया. महामंडल पहले उन्हें 25 हजार रुपए की सहायता राशि दे चुका था.

Advertisement

भटाली में प्रकाश पेंदोर की बाघ के हमले में मौत होने की खबर मिलने पर विधायक मुनगंटीवार ने पीड़ित परिवार को तत्काल सहायता देने की मांग की और मदद न देने पर आंदोलन करने की चेतावनी दी थी. वनविकास महामंडल ने मृतक के परिजनों को तत्काल 25 हजार रुपए की आर्थिक सहायता दी थी. शेष75 हजार का धनादेश विधायक मुनगंटीवार के हाथों 24 अप्रैल को श्रीमती पेंदोर को दिया गया.
मुनगंटीवार ने आदमखोर बाघ को पकड़ने के लिए तत्काल तीन पिंजरे लगाने का निर्देश दिया. साथ ही रोजगार गारंटी योजना के तहत तुरंत सड़क भी बनाने को कहा ताकि जंगल मार्ग से लोगों को न जाना पड़े.
इस अवसर पर मुनगंटीवार ने कहा कि वे वन्यजीवों के हमले में मारे जानेवालों के परिजनों को वन विभाग में नौकरी दिलाने के लिए प्रयासरत हैं. उन्होंने बताया कि जुलाई 2013 के विधान सभा अधिवेशन में वन मंत्री ने 6 महीने के भीतर मृतक के परिवार को नौकरी देने का आश्‍वासन दिया था. परंतु अब तक इस आश्‍वासन को पूरा नहीं किया गया है. अब वे वनमंत्री के खिलाफ विशेषाधिकार उल्लंघन का प्रस्ताव लाएंगे.
इस अवसर पर वन परिक्षेत्र अधिकारी पुलगमवार, तहसीलदार गजानन गोरंटीवार, जि.प. सदस्य अलका आत्राम, कृउबा सभापति राहुल संतोषवार, पं.स. सदस्य भारती कन्नाके, नंदा कोटरंगे, ईश्‍वर नैताम वर्धा, मोहुर्ले, अशोक सातपुते, नंदकिशोर तुम्मुलवार, रोशन ठंगणे, देवराव कड़ते, प्रकाशधारणे, राम लाखिया भी उपस्थित थे.

Advertisement
विधायक मुनगंटीवार वन विकास महामंडल की ओर से 75 हजार रुपए की सहायता का धनादेश पेंदोरे परिजनों को देते हुए.

विधायक मुनगंटीवार वन विकास महामंडल की ओर से 75 हजार रुपए की सहायता का धनादेश पेंदोरे परिजनों को देते हुए.

Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement