Published On : Mon, Jun 9th, 2014

गोंदिया : 20 हजार की रिश्वत लेते सहायक वनरक्षक गिरफ्तार

Advertisement


गोंदिया

भंडारा के भ्रष्टाचार प्रतिबंधक विभाग के अधिकारियों ने 20 हजार रु. की रिश्वत लेते हुए गोंदिया के सहायक वनसंरक्षक श्रेणी-1 तपन चैतन्य विश्वास (53) को रंगेहाथों पकड़ा यह कार्रवाई 7 जून की रात 9.50 बजे सडक़ अर्जुनी की सुभाष आरामशीन परिसर में की गई. सडक़ अर्जुनी निवासी लोकेश सुभाष बारसागडे. (38) की सुभाष सॉ मिल है. इस सॉ मिल में सडक़ अर्जुनी परिसर के फर्नीचर दुकानदार अपने लकड़ों की कटाई करते है. 5 जून को लोकेश अपने सॉ मिल मेंथा इस दौरान सहायक वनसंरक्षक तपन विश्वास वहां पहुंचे और उनसे कहने लगे कि सडक़ अर्जुनी परिसर के 17-18 फर्नीचर दुकानदार उक्त सॉ मिल में अवैध रूप से लकडों की कटाई करते है. वह लकड़ा दो नंबर का रहता है. इसलिए प्रत्येक दुकानदार से 2-2 हजार रु. और लोकेश के 5 हजार रु. इस तरह 40 हजार रु. दिए जाए.अन्यथा फर्नीचर दुकानदार और सुभाष सॉमिल पर कार्रवाईकी जाएगी. लोकेश बारसागड़े ने विश्वास से कहा कि फर्नीचर किसान गरीब है. इतनी राशि नहीं दे सकते, लेकिन विश्वास उनकी बात अनसुनी करते हुए कार्रवाई करने की धमकी देकर चले गए.

इस बीच लोकेश बारसागड़े ने भंडारा के भ्रष्टाचार प्रतिबंधक विभाग से संपर्क किया और जानकारी दी. भ्रष्टाचार प्रतिबंधक विभाग की ओर से 7 जून की रात्रि 9.50 बजे सुभाष सॉमिल में सहायक वनसंरक्षक विश्वास को 20 हजार रु. की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा गया. आरोपी के खिलाफ भ्रष्टाचार प्रतिबंधक कानून की धारा 7, 13(1)(ड),13(2) के तहत 8 जून को डुग्गीपार पुलिस थाने में मामला दर्ज कर लिया गया है.

Advertisement
Representational Pic

Representational Pic

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement