Published On : Mon, Jul 7th, 2014

गोंदिया : नौकरी का झांसा देकर साढ़े 3 लाख की धोखाधड़ी

Advertisement


गोंदिया

महाराष्ट्र राज्य परिवाहन निगर (एसटी महामंडल) विभाग में लिपिक (क्लर्क) के पद पर नौकरी लगा देने का झांसा देकर दो युवकों द्वारा साढ़े 3 लाख रूपये लेकर धोखाधड़ी का शिकार बनाया गया. फिर्यादी प्रमोद तानेश्वर चौधरी को उम्र (29 रा.ग्राम बबई पोस्ट गिधाड़ी त. गोरेगांव जि.गोंदिया) की शिकायत के आधार पर आरोपी मनीष दिनू कुंभलवार (29 रा. ग्राम सोनी त. गोरेगांव) तथा पुरूषोत्तम ईश्वर (57 रा. वैशालीनगर भंडारा) राधेश्याम ढोमने (50 रा. शहीद मिश्रावार्ड तिरोड़ा) के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया गया है.

सुत्रों से मिली प्राप्त जानकारी के अनुसार आरोपीयों ने आपसी में एकराय होकर 8 जून 2011 से आजतक फिर्यादी को कहा-तुझे व तेरे दोस्त धमेन्द्र भुजाडे को महाराष्ट्र राज्य परिवाहन निगर एसटी महामंडल में लिपिक के पद पर नौकरी लगा देते है. यह कहते फिर्यादी को विश्वास में लेते 1 लाख 50 हजार रूपये लिये तथा उसके मित्र भुजाडे को 2 लाख रू. की देकर कुल साढ़े 3 लाख रूपये ले लिये उसके बाद से न तो आरोपीयों ने फिर्यादी की नौकरी लगवाई न ही ली गई रक्कम वावस की. खुद को ठगाबाजी का शिकार महसुस कर आखिरकार फिर्यादी ने तीन लोगो के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज करवाया है. बरहाल आगे की जांच पुलिस निरिक्षक कुंभार साहब द्वारा की जा रही है.

Advertisement
Advertisement
Representational Pic

Representational Pic

 

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement