Published On : Mon, Aug 18th, 2014

खामगांव : बिकने लगा पानी, जलापूर्ति होने लगी टैंकरों से


खामगांव

आम तौर पर गर्मी के दिनों में टैंकरों से जलापूर्ति की जाती है, मगर इस दफा बारिश के मौसम में भी टैंकरों से जलापूर्ति की नौबत आ गई है. शहर के कुओं और बोरवेल में पानी के स्तर के और नीचे जाने के कारण नागरिकों के इस्तेमाल के लिए पानी कम पड़ने लगा है. इसके चलते पानी खरीदने की नौबत आ गई है.

संतोषजनक बारिश नहीं
बारिश के मौसम का तीसरा महीना चल रहा है, मगर अब तक संतोषजनक बारिश नहीं पड़ी है. पिछले साल अब तक करीब 700 मिमी बारिश आ चुकी थी. और इस बार.. केवल 180 मिमी. पिछले साल हुई पर्याप्त बारिश का ही परिणाम था कि कुओं और बोरवेल में अब तक पानी रहा. उसी तरह बांधों में पर्याप्त मात्रा में जलसंग्रह होने के कारण पीने का पानी भी पर्याप्त मात्रा में मिलता रहा.

कुओं और बोरवेल ने भी दे दिया जवाब
मगर अब कुओं और बोरवेल का जलस्तर नीचे जा रहा है. अनेक क्षेत्रों में तो बोरवेलों ने पानी उगलना ही बंद कर दिया है. इसलिए नागरिकों को पानी का टैंकर खरीदना पड़ रहा है. स्थानीय जलंब नाका क्षेत्र स्थित नंदनवन अपार्टमेंट के निवासियों को भी पानी का टैंकर मंगाना पड़ रहा है. शंकरनगर, वामन नगर जैसे इलाकों में तो पानी का अकाल ही पड़ गया है. जब बारिश में यह हाल है तो गर्मी में क्या होगा ? लोग यह सोचकर ही परेशान हो रहे हैं. एक बात तो तय है कि गर्मी के दिनों में भीषण जलसंकट से इनकार नहीं किया जा सकता.

File pic

File pic