Published On : Mon, Aug 4th, 2014

खामगांव : आरटीओ एजेंट ने की विषैली दवाई पीकर आत्महत्या


खामगांव

अध्यापिका ओर आरटीओ एजेंट की पुलिस थाने में बोलचाल होने के कारण एजेंट ने थाने परिसर में ही विषैली दवाई पीकर आत्महत्या करने की घटना घटी. इस घटना की वजह से पुलिस थाने के कर्मियों में खलबली मच गयी.

अधिक जानकारी के अनुसार मलकापुर के बंसीलाल नगर में रहनेवाली 42 वर्षीय विवाहिता यहां मलकापुर तहसील के ही ग्रामीण इलाके के एक स्कूल में अध्यापिका के रूप में कार्यरत है. कुछ दिन पूर्व बुलढाणा के आरटीओ कार्यालय का एजेंट बुलढाणा के चांडक लेआउट दिलीप नामदेव हाडे ने इस अध्यापिका को फोन करके ‘तू मुझसे प्यार कर नही तो जान से मारने की धमकी देकर अश्लील गाली गलौच की थी. इसकी शिकायत इस अध्यापिका ने 31 जुलाई को मलकापुर शहर पुलिस थाने में दी थी. इसके 3 माह पुर्व भी हाडे ने इस अध्यापिका को तकलीफ दी थी. इसकी शिकायत भी उसने पुलिस थाने में की. उस समय पुलिस ने उसको समजाकर छोड़ दिया.

2 अगस्त को सुबह 6 बजे अध्यापिका यह मलकापुर पुलिस थाने में आई. उनके पीछे ही दिलीप हाडे भी आया. दोनों पुलिस थाने के परिसर में आते ही उनके बीच झगड़ा हुआ. इसी समय दिलीप हाडे ने अपने पास की विषैली दवाई निकालकर पिली. यह बात वहां हाजिर पुलिस कर्मियों के ध्यान में आई. उन्होंने तुरंत हाडे को मलकापुर उपजिला सरकारी अस्पताल में दाखिल किया. वहा के डॉक्टर ने उनकी जांच करके उन्हें मृत घोषित किया. मलकापुर पुलिस ने मामला दर्ज किया है.


Representational Pic

Representational Pic