Published On : Sun, Jun 8th, 2014

खामगाँव : सरपंच ने की गाँव बेचने की तैयारी


गाँव के प्रवेशस्थान पर लगाया पोस्टर जिसपर लिखा है की “गाँव बेचना है”

खामगाँव

“गाँव बेचना है” ऐसा पोस्टर हरणी गाँव में लगा हुआ है जिसे देखकर कोई भी सकते में आ जाए. जानकारी मिली है की ये फलक और किसी ने नहीं बल्कि गाँव के सरपंच संजय इंग्ले ने लगाया है.

दरअसल हरणी गाँव विकास से कोसों दूर है।इतना लंबा अरसा बीत गया आज़ादी को लेकिन अबतक इस गाँव के पास ग्रामपंचायत कार्यालय की इमारत तक नहीं है. गाँव में पानी की किल्लत है, पक्के रास्ते नहीं है और लोकप्रतिनिधियों का इस गाँव की तरफ ध्यान नहीं है इसीसे खिन्न होकर सरकार तक अपनी समस्याएँ पहुचाने के उद्देश्य से ये फलक लगाया गया है। फलक पर लिखा है की जो भी गांव खरीदने का इच्छुक है वो ग्रामविकास मंत्रालय से संपर्क करें.

गौरतलब है के गाँव के विकास के मुद्दे को लेकर कई बार धरने और आंदोलन किए जा चुके हैं लेकिन प्रशासन के कान पर जूं तक नहीं रेंगती.
Village For Sale