Published On : Tue, Sep 9th, 2014

काटोल : शिक्षक अपने विद्यार्थियों का आत्मविश्वास बनाए रखें


राष्ट्रीय शिक्षक शिक्षा परिषद के कार्याध्यक्ष, सिनेट सदस्य प्राचार्य डॉ. केशवराव भांडारकर ने कहा


Rashtriy shiksha parishad
काटोल (नागपुर)

राष्ट्रीय शिक्षक शिक्षा परिषद के कार्याध्यक्ष, सिनेट सदस्य प्राचार्य डॉ. केशवराव भांडारकर ने शिक्षकों से कहा कि उन्हें समय के साथ अपनी भूमिका को बदलना चाहिए और समाज में अपने स्थान को देखकर ही अपने कर्तव्य का निर्वाह करना चाहिए. उन्होंने कहा कि शिक्षकों को अपने विद्यार्थियों का आत्मविश्वास बनाए रखने के लिए काम करना चाहिए.

रविवार को स्थानीय महेश भवन में आयोजित शिक्षकों की कार्यशाला और सत्कार समारोह में वे बोल रहे थे. इस अवसर पर प्रमुख अतिथि के रूप में उपस्थित राज्य के अन्न और नागरी आपूर्ति मंत्री अनिल देशमुख ने कहा कि, शिक्षकों को विद्यार्थियों के विकास पर ध्यान देना चाहिए. जि. प. उपाध्यक्ष चंद्रशेखर चिखले ने भी इस मौके पर मार्गदर्शन किया.

Rashtriy shiksha parishad
प्रास्ताविक भाषण प्राचार्य डॉ.भास्कर विघे ने किया. शिक्षक दिन के अवसर पर उपस्थित सैकड़ों स्थायी पूर्व शिक्षकों का सत्कार अनिल देशमुख और मंच पर उपस्थित अतिथियों के हाथों किया गया. कार्यक्रम में डॉ. भास्कर विघे गुरुजी, चंद्रशेखर मानकर, प्रा. दिनकरराव राऊत, संजय चरडे, अनूप खराडे, गट शिक्षणाधिकारी विनोद ताम्हण, अशोक काले, जे. ना. मंदक, सचिव वामनराव खंडाल, प्रमोद वानखेड़े आदि उपस्थित थे. कार्यक्रम का आयोजन स्थायी पूर्व शिक्षक सत्कार समिति ने किया था. संचालन प्रमोद वंजारी और आभार प्रदर्शन पठाड़े ने किया.

Rashtriy shiksha parishad