Published On : Mon, Aug 18th, 2014

काटोल : युवाओं ने नागरिकों से कहा – चलो झंडा उठाएं


शेर शिवाजी व युवा परिवर्तन संघटना का उपक्रम

काटोल

Shivaji & yuva parivartan club  (1)
स्वतंत्रता दिवस और गणतंत्र दिवस जैसे राष्ट्रीय समारोहों पर अक्सर राष्ट्रध्वज को इस्तेमाल के बाद रास्ते पर या कचरा पेटी में फेंक दिया जाता है. यह राष्ट्रध्वज का अपमान है, मगर हमें इस अपमान पर कभी शर्म नहीं आती और न पछतावा होता है. राष्ट्रध्वज का सम्मान करने की दृष्टि से शेर शिवाजी संघटना व युवा परिवर्तन क्लब ने सागर राऊत व महेश वंजारी के नेतृत्व में इस बार ‘चलो झंडा उठाएं’ कार्यक्रम का आयोजन किया.

कार्यक्रम की शुरुआत शिवाजी युवा संघटना के धंतोली स्थित मुख्य कार्यालय से की गई. शहर के सभी स्कूल व महाविद्यालय परिसर, रेलवे व बस स्टैंड परिसर में पड़े सभी राष्ट्रध्वज कार्यकर्ताओं ने जमा कर नागरिकों को इसका महत्व समझाया. कार्यक्रम का समापन हुतात्मा स्मारक के पास गांधीजी के पुतले को माल्यार्पण कर राष्ट्रगीत से किया गया. जमा किए गए राष्ट्रध्वज को नायब तहसीलदार निंबालकर को सौंपा गया. इस कार्यक्रम की सफलता के लिए तेजस केने, विपिन टेम्बेकर, इवान अंसारी, कुणाल टेम्बेकर, विशाल पंचभाई, रोहन प्रजापति, अंगलेश्वर मोहोड़, भूषण पुंड, दीपक मोरोलिया, मनीष गुजवार आदि ने प्रयास किया.


Shivaji & yuva parivartan club  (2)