Published On : Fri, Jul 4th, 2014

उमरखेड़ : परिवार की हत्या की धमकी देकर छात्र से लाखों हड़पे


अप्राकृतिक कृत्य भी किया, जेवरात-नगद सहित 4.60 लाख का माल


उमरखेड़ में नए तरीके के मामले से अभिभावकों में भय


उमरखेड़

माता-पिता सहित पूरे परिवार की हत्या की धमकी देकर एक नाबालिग बच्चे के साथ न सिर्फ अप्राकृतिक कृत्य किया गया, बल्कि बच्चे से नगदी और सोने के जेवरात भी मंगवाए गए. कुछ हजार नहीं, बल्कि करीब साढ़े 4 लाख रुपए का माल हड़पने की सनसनीखेज जानकारी मिली है. बच्चे के पिता की पुलिस में शिकायत के बाद शहर में खलबली मच गई है. इस मामले से अभिभावकों में भय व्याप्त है.

दो हजार की मांग से हुई थी शुरुआत
पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार दहागांव के इंग्लिश मीडियम स्कूल की आठवीं कक्षा के 15 वर्षीय छात्र की एक साल पहले क्रिकेट के मैदान में आकाश चव्हाण से दोस्ती हुई थी. कुछ दिन तो सब-कुछ ठीक-ठाक चलता रहा. फिर एक दिन आकाश ने छात्र से दो हजार रुपयों की मांग की और पिता की हत्या की धमकी दी. इतना ही नहीं, उसे अपने घर ले जाकर उसके साथ मारपीट भी की. घबराहट और भय के मारे पीड़ित ने आखिर दो हजार रुपए आकाश को ले जाकर दे दिया.

कई दिनों तक चलता रहा सिलसिला
इसके बाद आकाश ने अपने अपराधी प्रवृत्ति के बड़े भाई का भय दिखाकर और धमकी देकर घर से सोने के जेवरात लाने की मांग की. ये सिलसिला कई दिनों तक चलता रहा. दोनों भाइयों ने मिलकर पीड़ित से नगद और सोने के जेवरात मिलाकर 4 लाख 60 हजार का माल हड़प लिया.

पिता रह गए हक्का-बक्का
पीड़ित के पिता ने पुलिस में की शिकायत में कहा है कि दोनों भाई इतने पर ही रुके नहीं. एक दिन दोनों पीड़ित को अपने घर लेकर गए और उसके साथ अप्राकृतिक कृत्य किया. फिर जान से मारने की धमकी देकर सोने के जेवरात मंगवाए. दोबारा अप्राकृतिक कृत्य किया. पीड़ित भय के कारण किसी को कुछ बता नहीं पा रहा था. आखिर एक दिन पिता के ध्यान में यह बात आई कि बच्चे के साथ कुछ गड़बड़ जरूर है. उन्होंने उससे जब पूछताछ की तो बच्चे से सब सुनकर वे हक्का-बक्का रह गए. पिता बेटे को लेकर थाना पहुंचे और पुलिस को आपबीती सुनाई. पुलिस ने अविनाश चव्हाण और आकाश चव्हाण के खिलाफ भादंवि की धारा 377, 386, 323, 506 और 34 के तहत मामला दर्ज किया है. साथ ही बालक संरक्षण कायदा के तहत 4, 8 और 12 के तहत भी मामला दर्ज किया गया है.

Representational Pic

Representational Pic