Published On : Wed, Aug 6th, 2014

उमरखेड़ : निवासी शाला की छात्रा की अचानक मृत्यु, जांच की मांग


उमरखेड़

यहां से कुछ दूरी पर स्थित मरसूल की अनुसूचित जाति-जनजाति की लड़कियों की सरकारी निवासी शाला में एक़ 15 वर्षीय लड़की की अचानक मृत्यु हो गई. उसके बीमार होने के बाद पास के सरकारी अस्पताल में भरती करने की कोशिश की गई, मगर युवती ने दम तोड़ दिया. इस बीच, मृतक के रिश्तेदारों ने मामले की जांच कराने की मांग की है.

मरसूल में अनुसूचित जाति-जनजाति की लड़कियों की सरकारी निवासी शाला है. इसी शाला में डोंगरगांव की युवती शिल्पा रमेश सिरबिड़े कक्षा 9 वीं की छात्रा थी. निवासी शाला की अधीक्षक प्रमिला वाघ ने बताया कि शिल्पा नागपंचमी पर अपने माता-पिता के पास गई थी और 5 अगस्त को शाम 4 बजे ही शाला में लौटी थी.

बताया जाता है कि शाम में उसकी तबियत अचानक खराब हो गई. उसकी चचेरी बहन ने शाला के एक कर्मचारी को इसकी जानकारी दी. उसे तत्काल शासकीय उत्तरवार
अस्पताल में ले जाया गया, मगर उससे पहले ही शिल्पा ने दम तोड़ दिया. वाघ ने घटना की जानकारी शिल्पा के माता-पिता को दी. उमरखेड़ पुलिस को घटना की जानकारी दे दी गई है.


Representational Pic

Representational Picjanch