Published On : Mon, Jun 16th, 2014

उमरखेड़ : एक माह बाद भी दोषियों का पता नहीं


भाजयुमो पदाधिकारियों का आमरण अनशन शुरू


घोंगडापीर बाबा दरगाह अवमानना प्रकरण

उमरखेड़

uposhanपिछले माह 17 मई को शहर से सटे घोंगडापीर बाबा दरगाह की अवमानना के मामले के दोषियों को तत्काल पकड़ने की मांग को लेकर भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयुमो) के शहर अध्यक्ष गजानन मोहले, रीतेश गिरी और बबलू मैड 14 जून से महात्मा गांधी चौक पर आमरण अनशन पर बैठे हैं.

हिंदू-मुस्लिमों की समान आस्था के प्रतीक घोंगडापीर बाबा की दरगाह की अवमानना के बाद शहर में कुछ युवकों ने भारी उपद्रव मचाया था. दुकानों की तोड़फोड़ की गई थी, रास्तों के किनारे खड़े वाहनों को भी नहीं बख्शा गया था. दुकानदारों और वाहन मालिकों ने इस पूरे मामले की जांच कर दोषियों पर कड़ी कार्रवाई की मांग की थी. मगर एक माह बाद भी पुलिस ने इस दिशा में कोई कार्रवाई नहीं की है. विभिन्न संगठनों ने कई बार ज्ञापन देकर दोषियों को पकड़ने और कार्रवाई करने की मांग की, लेकिन कुछ नहीं हो पाया. भाजयुमो ने तत्काल दोषियों पर कार्रवाई कर शहर की शांति-व्यवस्था को अबाधित रखने की मांग की है.