Published On : Fri, Apr 25th, 2014

आमगांव : आमगांव न्यायालय परिसर में बम की अफवाह

 

आमगांव न्यायालय परिसर में बम की तलाश करते बमरोधी टीम के लोग

आमगांव न्यायालय परिसर में बम की तलाश करते बमरोधी टीम के लोग

बेनामी पत्र से मचा हड़कंप

बेनामी पत्र ने न्यायालय परिसर में खलबली मचा दी. पुलिस ने न्यायालय परिसर में बम की तलाश करती रही. इस वजह से 24 अप्रैल को न्यायालय का काम दोपहर तक रोक दिया गया. इस तरह की घटना आमगांव के इतिहास में पहली बार घटित हुई है.

इस पत्र में आमगांव न्यायालय में बम रखे जाने की जानकारी दी गई. इस पत्र ने पूरे परिसर में खलबली उड़ा दी. उक्त पत्र मिलने के बाद न्यायालय का कामकाज दोपहर तक रोक दिया गया है. पुलिस ने तुरंत बमरोधी टीम को बुलाया. बम निरोधी टीम के अधिकारी नितिन तोमर के मार्गदर्शन में आमगांव न्यायालय परिसर में बम की तलाश कीगई. लेकिन वहां कोई भी संदिग्ध वस्तु नहीं मिली. पुलिस विभाग अब इस मामले में गहन पड़ताल कर रही है.

बताया जाता है कि आमगांव तहसील के ग्राम बोथली में 6 अप्रैल को बाबूलाल धोंडू सोनवाने(60) के खेत परिसर में दुर्गाप्रसाद सोनवाने(63) ने हत्या कर दी थी. सबूत नष्ट करने के लिए मृतक की लाश सूनसान स्थान पर ठिकाने लगाई गई. इस मामले की जांच आमगांव पुलिस ने की है. जांच पूरी कर पुलिस ने मामला न्यायालय में सौंप दिया. समझा जाता है कि जांच से असंतुष्ट किसी व्यक्ति ने ही वह गुमनाम पत्र आमगांव न्यायालय को भेजा है.
उपविभागीय पुलिस अधिकारी अजय देवरे ने कहा कि आमगांव न्यायालय परिसर में इस तरह दहशत फैलानेवाले अज्ञात व्यक्ति की तलाश कर कड़ी कार्रवाई की जाएगी.