Published On : Mon, Jul 21st, 2014

अर्जुनी मोरगांव का शिष्ट मंडल राकांपा अध्यक्ष शरद पवार से मिलेगा


अर्जुनी मोरगांव

69 अर्जूनी-मोरगांव विधानसभा क्षेत्र पूर्व के 2009 के चुनाव में कांग्रेस पार्टी के पास था. पर चुनाव मतदार संघ राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी को दिया जाए इसके लिए सडक-अर्जुनी, अर्जुनी-मोरगांव व गोरेगांव तहसील के राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के पदाधिकारियों ने कमर कस ली है.विधानसभा की यह जगह राकांपा को दी जाये इसके लिए तीनों तहसील के पदाधिकारी राकांपा अध्यक्ष शरद पवार, ज्येष्ठ नेता प्रफुल्ल पटेल, राज्य के अध्यक्ष सुनील तटकरे जल्द ही इन नेताओं से मिलेंगे.

भंडारा लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र के 2009 में विधानसभा के लिए 3 जगहों पर राकांपा चुनी गई थी लेकिन प्रफुल्ल पटेल ने इनमे से 1 जगह कांग्रेस पार्टी को दे दी थी. परंतु अब 2009 की परिस्थिति नहीं रह पाई है. कारण 2009 में काँग्रेस उम्मीदवार का प्रचार कांग्रेस नेताओं द्वारा नहीं किया गया था. इस उम्मीदवार की जीत में और प्रचार में राकांपा नेताओं की सक्रिय भूमिका थी. जबकि हाल में हुए लोकसभा के चुनावों में कांग्रेस ने राकांपा उम्मीदवार के प्रचार में यह कहकर रुचि नहीं दिखाई थी कि, हमें ऊपर से आदेश नहीं है प्रचार करने का इसलिए यह जगह राकांपा के उम्मीदवार को ही मिलनी चाहिए. इस हेतु एक शिष्टमंडल जल्द ही राष्ट्रवादी पार्टी के नेता शरद पवार से मिलेंगे.

ऐसी जानकारी गंगाधर परशुरामकर,अविनाश काशिवर, नामदेव डोगरवार, बंदु भेंडरकर, गोवर्धन तरम, केवल बघेले ,बबिता, मिलन राउत, आनंदराव इडपाते, किरण गवरने, 4 रूपविलास कुरसुंगे, डॉ. डी.बी. रहांगडाले, बाबा बोपचे, प्रभु लोहिया, शिवजी ग़हणे, दिनेश कोरे, परसराम राउत, हेमंत भंडारकर, तेजराम पटले, यशवंत परशुरामकर, राकेश लांजी, देवराव नेवारे, निर्मला उईके, वंदना डोंगरवार, सुभाष गहाणे, प्रल्हाद वरते आदि ने एक पत्रकार परिषद में दी.

File pic

File pic